--Advertisement--

पैसे लेकर भ्रूण की जांच कर रहे थे अनट्रेंड स्टाफ, छापेमारी में अल्ट्रासाउंड मशीन सीज

सीएमओ की टीम ने शुक्रवार को चन्द्रिका देवी हॉस्पिटल एंड ट्रॉमा सेंटर में छापा मारा।

Danik Bhaskar | Dec 23, 2017, 12:30 AM IST

लखनऊ. दिल्ली से आए पीसीपीएनडीटी के अफसरों ने सीएमओ की टीम के साथ मिलकर शुक्रवार को चन्द्रिका देवी हॉस्पिटल एंड ट्रॉमा सेंटर में छापा मारा। इंस्पेक्शन के दौरान मौके से काफी खामियां मिली। हास्पिटल के अंदर अल्ट्रासाउंड कराने वाले पेशेंट का ब्यौरा रजिस्टर में मौजूद नहीं था। मौके पर अनट्रेंड स्टाफ ड्यूटी करते पाए गये। अल्ट्रासाउंड के संचालन संबंधी मानक पूरा नहीं था। जिसके बाद अल्ट्रासाउंड मशीन को सीज कर मौके पर मिले दस्तावेज को जब्त कर लिया गया। आगे पढ़‍िए ये है मामला ...

-लखनऊ के सीएमओ डॉ. जीएस वाजपेई को बक्शी का तालाब स्थित चन्द्रिका देवी हॉस्पिटल एंड ट्रॉमा सेंटर में पैसे लेकर भ्रूण का परीक्षण किए जाने की शिकायत मिली थी।
-आरोप है कि यहां के डॉक्टर पैसे लेकर गर्भ में पल रहे शिशु की पहचान उजागर कर रहे थे। जिसके बाद सीएमओ ने एसीएमओ डॉ. डीके चौधरी को मौके पर भेजकर जांच करने के निर्देश दिए थे।
-एसीएमओ डॉ. चौधरी पीसीपीएनडीटी के अधिकारियों के साथ मिलकर मौके पर इंस्पेक्शन करने पहुंचे तो जांच में पाया कि हास्पिटल में अल्ट्रासाउंड कराने वाले पेशेंट का रजिस्टर में कोई ब्यौरा मौजूद नहीं है। अनट्रेंड स्टाफ ड्यूटी कर रहे हैं।
-हॉस्पिटल के अधिकारियों से जब अस्पताल के संचालन और ड्यूटी पर तैनात डॉक्टरों की डिग्री और अन्य जरुरी दस्तावेज मांगे गए तो वे पेश नहीं कर पाये। इसके बाद अल्ट्रासाउंड मशीन को सीज मौके से मौजूद दस्तावेज को जब्त कर लिया गया।


क्या कहते हैं सीएमओ
-सीएमओ डॉ. जीएस वाजपेयी के मुताबिक, दिल्ली से आई पीसीपीएनडीटी की टीम ने स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के साथ मिलकर चन्द्रिका देवी हॉस्पिटल एंड ट्रॉमा सेंटर में इंस्पेक्शन किया। मौके से काफी खामियां मिली है। जिसके बाद हास्पिटल की अल्ट्रासाउंड मशीन को सीज कर दिया गया।