--Advertisement--

यहां राहुल गांधी के चश्मे की होती है पूजा, कुछ ऐसा है ये इंटरेस्टिंग किस्सा

DainikBhaskar.com अपने रीडर्स से अमेठी में राहुल से जुड़ा एक किस्सा शेयर करने जा रहा है।

Danik Bhaskar | Dec 16, 2017, 11:55 AM IST

अमेठी (यूपी). राहुल गांधी (47) ने शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष पद का चार्ज संभाल लिया। उन्हें कांग्रेस प्रेसिडेंट चुनाव के रिटर्निंग अफसर मुल्लापल्ली रामचंद्रन ने सर्टिफिकेट दिया। इसको लेकर अमेठी में एक बार फिर जश्न मनाया गया। DainikBhaskar.com अपने रीडर्स को राहुल से जुड़े 5 किस्से बताने जा रहा है। जब राहुल बोले- इसे गिफ्ट ही समझ लीजिए...

- अमेठी में एक एरिया है जामो ब्लाक। यहां के रहने वाले परमानंद पांडेय (75) जो पुराने कांग्रेसी हैं। वो बताते हैं, ''देश में मोदी सरकार आ चुकी थी और अमेठी के जगदीशपुर में यूपीए सरकार के मेगा फूड पार्क के प्रोजेक्ट को सरकार ने बंद कर दिया था। इसके विरोध में कांग्रेसियों ने प्रदर्शन रखा। इसमें खुद राहुल गांधी शामिल हुए।''
- ''काफी भीड़ और धक्का-मुक्की के चलते मैं वहां गिर गया। राहुल गांधी की निगाह मुझ पर पड़ी। उन्होंने अपने प्रतिनिधि से कहकर मुझे उठवाया।''
- ''उन्होंने मुझसे पूछा- चाचा चोट तो नहीं लगी? मैंने जवाब दिया- नहीं। इसके बाद उन्होंने अपने धूप के चश्मे को ये कहते हुए मुझे दिया कि धूप ज्यादा है, हमारा चश्मा आप लगा लीजिए।''
- ''मैंने कहा- हमें दिखता है, धूप हमारा क्या करेगी? हम किसान के बेटे हैं। राहुल ने जवाब दिया- गिफ्ट समझकर रख लीजिए।''

उस चश्मे की करते हैं पूजा
- परमानंद आज भी राहुल गांधी से मिले उस चश्मे को संजोकर रखे हुए हैं। वहीं, दूसरी ओर दिन में उसे एक-दो बार साफ करते हैं।
- यही नहीं, राहुल से उपहार पाए उस चश्मे को वो भगवान की मूर्तियों के पास रखते हैं और उसे भी अगरबत्ती-माला चढ़ाकर पूजते हैं।