--Advertisement--

4Yr पहले 5 लाख से शुरू की थी कंपनी, अब विराट-अनुष्का बने कस्टमर

बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा और विराट कोहली ने सोमवार को इटली के बोरगो फिनोसिएतो में शादी कर ली।

Dainik Bhaskar

Dec 12, 2017, 04:27 PM IST
विराट-अनुष्का की शादी डिजाइन करने वाली वेडिंग प्लानर और फोटोग्राफर की लव स्टोरी भी बहुत खास है। विराट-अनुष्का की शादी डिजाइन करने वाली वेडिंग प्लानर और फोटोग्राफर की लव स्टोरी भी बहुत खास है।

लखनऊ. विराट कोहली और अनुष्का शर्मा की वेडिंग प्लानर और फोटोग्राफर की लव स्टोरी भी बहुत खास है। वेडिंग प्लानर देविका नारायण और पूरी शादी में फोटो ग्राफी करने वाले जोसेफ रदिक ने लखनऊ के एक सरसों के खेत में शादी की थी। देविका के पिता प्रदीप नारायण और उनकी मां दीप्ति‍ नारायण ने DainikBhaskar.com से कुछ किस्से शेयर किए। लखनऊ में सरसों के खेत में हुई थी शादी...

- ''मेरे दामाद इंजीनियरिंग ग्रैजुएट हैं। उसके बाद उन्हेांने आईआईएम से मैनेजमेंट किया, वो बेसिकली हैदराबाद के रहने वाले क्रिश्चियन हैं।

- ''मेरे बेटी से शादी करने के लिए दामाद जोसेफ रधि‍क पारंपरिक रूप से मेरी मां से हाथ मांगने आए थे। वो उस वक्त घर पर दादी के सामने एक दम फिल्मी स्टाइल में घुटनों पर झुककर बोले- मैं आपकी देविका से शादी करना चाहता हूं।''
- ''फिर सबने हां कर दी थी। इसके बाद ये हुआ कि शादी कैसे होगी। तो तय हुआ कि हम आपको बदलने नहीं जा रहे, न आप हमें। तो यहीं रुक कर दोनों की हल्दी और अन्य सेरेमनी हुई थी। फरवरी 2017 में ही शादी हुई थी।''
- ''दोनों का मन था कि शहर से दूर गांव लुक में शादी प्लान करेंगे। तो सीतापुर रोड पर एक फार्म हाउस था, वहीं पर सरसों के खेत में ही शादी हुई थी।''

देविका को बचपन से प्लानिंग है पसंद, 5 लाख से शुरू की थी कंपनी
- ''देविका ने लोरेटो कॉन्वेंट से ही अपनी बेसिक पढ़ाई 2006 में पूरी की थी। इसके बाद की ग्रैजुएशन श्रीराम कॉलेज डेल्ही से 2008-09 में कंप्लीट किया।''
- ''वहीं कई वेडिंग कंपनियों में काम किया, फिर 2010 में वेडिंग डिजाइन को ज्वाइन किया। वहां करीब 4 साल काम किया।''
- ''2014 में उसने अपनी खुद की कंपनीं खोल दी। उसने अपने बचाय हुए पैसों से ही छोटी-सी शुरूआत की थी। उस वक्त करीब 5 लाख से बिजनेस की शुरूआत की थी।''
- ''वो हमेशा से ही डिजाइन और प्लानिंग में अच्छी है, जब तक उसकी मर्जी का न हो जाए वो हटती नहीं है। उसकी पसंद के कलर और डिजाइन को लेाग पसंद करें, तारीफ करें, इसके लिए वो फुल प्रूफ प्लान बनाती है।''

सीक्रेट रखती है जब तक काम पूरा न हो
- ''देविका अपना बर्थडे भी 6th क्लास से ही प्लान करने लगी थी। जब वो सोकर उठती थी, तो उसे सबसे पहले वो सामान ढूंढ़ने लगती थी, जो घर की सजावट में चाहिए।''
- ''कौन सा सामान कहां होगा। कैसे दिखेगा। क्या कलर कॉम्बिनेशन होगा। ये सब उसे पहले से ही सेट करके रखना अच्छा लगता था।''
- ''एक दो बार वो हम लोगों को भी सिखा देती थी कि ये काम ऐसे नहीं वैसे होगा। वो अपने को सीक्रेट शेयर नहीं करते है, जब तक की काम पूरा न हो जाए।''
- ''विराट कोहली और अनुष्का शर्मा की शादी को भी उसने एक बार भी नहीं बताया कि कब-क्या कर रही है। एक दम साइलेंट थी।''
- ''शादी होने के बाद रात को 9:40 पर दामाद की कॉल आई, बोले-पापा आपकी बेटी तो कमाल कर रही है। अनुष्का शर्मा और विराट कोहली की वेडिंग प्लान की है। सब कुछ बहुत अच्छा हुआ है। सब इसकी तारीफ कर रहे हैं।''

दोनों ने सरसों के खेत में शादी की थी। दोनों ने सरसों के खेत में शादी की थी।
देविका ने लोरेटो कॉन्वेंट से ही अपनी बेसिक पढ़ाई 2006 में पूरी की थी। देविका ने लोरेटो कॉन्वेंट से ही अपनी बेसिक पढ़ाई 2006 में पूरी की थी।
वहीं कई वेडिंग कंपनियों में काम किया, फिर 2010 में वेडिंग डिजाइन को ज्वाइन किया। वहीं कई वेडिंग कंपनियों में काम किया, फिर 2010 में वेडिंग डिजाइन को ज्वाइन किया।
2014 में दोनों ने मिलकर अपनी खुद की कंपनीं खोल दी। 2014 में दोनों ने मिलकर अपनी खुद की कंपनीं खोल दी।
मां कहती हैं- मेरे बेटी से शादी करने के लिए दामाद जोसेफ रधि‍क पारंपरिक रूप से मेरी मां से हाथ मांगने आए थे। मां कहती हैं- मेरे बेटी से शादी करने के लिए दामाद जोसेफ रधि‍क पारंपरिक रूप से मेरी मां से हाथ मांगने आए थे।
अपनी दादी के साथ देविका। अपनी दादी के साथ देविका।
X
विराट-अनुष्का की शादी डिजाइन करने वाली वेडिंग प्लानर और फोटोग्राफर की लव स्टोरी भी बहुत खास है।विराट-अनुष्का की शादी डिजाइन करने वाली वेडिंग प्लानर और फोटोग्राफर की लव स्टोरी भी बहुत खास है।
दोनों ने सरसों के खेत में शादी की थी।दोनों ने सरसों के खेत में शादी की थी।
देविका ने लोरेटो कॉन्वेंट से ही अपनी बेसिक पढ़ाई 2006 में पूरी की थी।देविका ने लोरेटो कॉन्वेंट से ही अपनी बेसिक पढ़ाई 2006 में पूरी की थी।
वहीं कई वेडिंग कंपनियों में काम किया, फिर 2010 में वेडिंग डिजाइन को ज्वाइन किया।वहीं कई वेडिंग कंपनियों में काम किया, फिर 2010 में वेडिंग डिजाइन को ज्वाइन किया।
2014 में दोनों ने मिलकर अपनी खुद की कंपनीं खोल दी।2014 में दोनों ने मिलकर अपनी खुद की कंपनीं खोल दी।
मां कहती हैं- मेरे बेटी से शादी करने के लिए दामाद जोसेफ रधि‍क पारंपरिक रूप से मेरी मां से हाथ मांगने आए थे।मां कहती हैं- मेरे बेटी से शादी करने के लिए दामाद जोसेफ रधि‍क पारंपरिक रूप से मेरी मां से हाथ मांगने आए थे।
अपनी दादी के साथ देविका।अपनी दादी के साथ देविका।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..