Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Virendra Ashrams Were Used To Buy Power Medicine

वीरेन्द्र के आश्रम में लड़कियों को नहलाकर खास मेडीटेशन कराया जाता था, पुलिस को मिले संकेत

भूतनाथ में एक कमरे का किराया 15 हजार मन्थली, बाबा ने 5 हजार में ले रखा था फ्लोर

आदित्य तिवारी | Last Modified - Dec 27, 2017, 02:56 PM IST

  • वीरेन्द्र के आश्रम में लड़कियों को नहलाकर खास मेडीटेशन कराया जाता था, पुलिस को मिले संकेत
    +2और स्लाइड देखें

    लखनऊ. आध्यत्मिक विश्वविद्यालय की आड़ में लड़कियों का ब्रेन वाश करने व उनके शोषण करने वाले बाबा वीरेन्द्र देव लखनऊ के भूतनाथ क्षेत्र के जिस अपार्टमेन्ट में आश्रम चलाता था, वहां रहने वाले सेक्स पावर बढ़ाने वाली दवाएं खरीदते थे। 25 दिसम्बर को गाजीपुर थाने की पुलिस ने इस आश्रम में छापा मारा था, जिससे के बाद की इंवेस्टीगेशन में पुलिस को यह जानकारी मिली है। कथित बाबा का यह आश्रम 5 साल से चल रहा था। सीओ गाज़ीपुर अवनीश्वर चंद्र श्रीवास्तव का कहना जिसके नाम से अग्रीमेंट है उसकी डिटेल की तलाश की जा रही हैं। कहां पहुंची पुलिस की तफ्तीश आगे पढ़े

    लड़कियों को नहलाकर कराया जाता था मेडीटेशन
    -अध्यात्म और सत्संग के नाम पर आश्रम में आनेवाले भक्तों को नहाने के बाद मेडीटेशन कराया जाता था।
    - गाज़ीपुर के इस आश्रम में भक्तों को सेक्स पावर बढ़ाने वाली दवाएं दिये जाने की जानकारी भी पुलिस को मिली है।
    - पुलिस को कुछ एेसे लोगों को जानकारी हुई है, जो आश्रम जाते थे और उन्हे दवा दी जाती थी, तफ्तीश में मुश्किल होने के चलते पुलिस उनके नाम का खुलासा नहीं कर रही है।
    -भूतनाथ के दुकानदगारों ने बताया कि आश्रम आने वालों में से कुछ लोग शिलाजीत, वियाग्रा, वीटा सी -15, एनर्जिक कैप्सूल व कई अंग्रेजी दवा खरीदते थे।

    -पुलिस का कहना है कि कुछ दुकानदारों ने बताया कि आय़ुर्वेदिक दवाओं व फूड सप्लीमेन्ट के लिए डॉक्टर के परचे की आवश्यकता नहीं होती है, एेसे में मांगने पर दवा दे दी जाती है। 500 रूपए देते है किराया

    -भूतनाथ के जिस बिल्डिंग में आश्रम चल रहा था, उसके आसपास के सिर्फ एक कमरे का किराया 15 से 20 हजार मन्थली है। -मगर गाज़ीपुर के इस बिल्डिंग के मालिक श्याम मोहन अग्रवाल ने बाबा को सिर्फ पांच सौ रुपए महीने पर अर्पाटमेंट का पूरा फ्लोर देखा रखा था।

    -चंद्रमा मार्केट में आधायत्म आश्रम नाम से स्कूल चल रहा है। श्याम मोहन अग्रवाल कहना है कि, बीते चार साल से यह आश्रम चल रहा हैं। -500 रूपए किराये पर 4th फ्लोर काम्प्लेक्स रेंट पर दिया गया हैं इससे पहले ब्रह्माकुमारी का आश्रम यहां चलता था। -इस स्कूल को दिल्ली की रहने वाली महिला रामकली पटेल चला रही थी। इस स्कूल में दो बुजुर्ग महिलाएं और दो लड़कियां रहती थी।

    -पुलिस का कहना है कि रामकली पटेल की तलाश की जा रही है दिल्ली पुलिस के साथ इंफरमेशन साझा की जा रही है।

    एसएसपी बोले

    एसएसपी दीपक कुमार का कहना है कि इस मामले बेहद गंभीरता से जांच की जा रही है। तफ्तीश में कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। कुछ लोगों ने एेसा बताया है कि आश्रम में रहने वाले लोग शक्तिवर्धक दवा, फूड सप्लीमेन्ट खरीदते थे। आश्रम चलाने वाली महिला की तलाश चल रही है। आश्रम को सील कर दिया गया है। दिल्ली पुलिस से इंफरमेशन साझा की गयी है।

  • वीरेन्द्र के आश्रम में लड़कियों को नहलाकर खास मेडीटेशन कराया जाता था, पुलिस को मिले संकेत
    +2और स्लाइड देखें
  • वीरेन्द्र के आश्रम में लड़कियों को नहलाकर खास मेडीटेशन कराया जाता था, पुलिस को मिले संकेत
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |
Web Title: Virendra Ashrams Were Used To Buy Power Medicine
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×