न्यूज़

--Advertisement--

'स्वराज्य हमारा जन्मसिद्ध अधिकार' नारे के 101 साल पूरे, आज तिलक महोत्सव मनाएगी योगी सरकार

मंगलवार को कैबिनेट बैठक में तिलक महोत्सव मनाने का फैसला लिया गया था।

Dainik Bhaskar

Dec 30, 2017, 08:11 AM IST
मेरठ की आलिया खान ने कार्यक्रम में गीता पाठ किया। मेरठ की आलिया खान ने कार्यक्रम में गीता पाठ किया।

लखनऊ. 'स्वराज्य मेरा जन्म सिद्ध अधिकार है' नारे के 101 साल पूरे होने पर यूपी सरकार ने आज विधानसभा के तिलक हाल में 'तिलक महोत्सव' का आयोजन किया। कार्यक्रम की शुरुआत गर्वनर राम नाईक ने की। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष और सीएम योगी आदित्यनाथ मौजूद थे वहीं, कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के तौर पर मुंबई के सीएम देंवेद्र फड़नवीस मौजूद रहे। पंडित बाल गंगाधर तिलक का जन्म 23 जुलाई 1856 को हुआ था। तिलक भारत के एक प्रमुख नेता, समाज सुधारक और स्वतन्त्रता सेनानी थे।

-इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंच से उतरकर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों और इनके परिजनों का सम्मान किया। वहीं, आलिया खान ने कार्यक्रम में गीता का पाठ किया। जिसके बाद तालियों की गड़गड़ाहट से लोक भवन गूंज उठा।

-बाल गंगाधर तिलक की पौत्रवधु मुक्ता तिलक ने कहा- "क्रांतिकारी में बदलावों का दौर चल रहा था, उसी वक्त तिलकजी को लखनऊ में कांग्रेस के एक कार्यक्रम में भाग लेने ले लिए आना था। उसी वक्त कांग्रेस में भी काफी अलग-अलग विचारधाराएं थी, लेकिन सारे युवा और क्रांतिकारी तिलक जी के साथ थे।'
-उनके समर्थन में पंडित राम प्रसाद बिस्मिल ने पूरे लखनऊ में जोरदार स्वागत किया और उनके समर्थन में सबको इकट्ठा किया। आज हमें उसी तरह से काम करना है। उन्हीं की प्रेरणा और मार्ग पर चलकर देश को आगे बढ़ाना है।

सीएम योगी ने क्या कहा


-कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा- "इस्लाम धर्म की लड़की ने गीता को बहुत सुंदर पाठ किया। ये धर्म के नामपर पाखंडियों की पोल खोलने वाला है।" जो लोग हमें बांटना चाहते हैं वो लोग 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' नहीं देखना चाहते वो लोग हमेशा नकारात्मक बात करेंगे।
-उन्होंने कहा- "जो कौम अपने इतिहास को संजो करके नहीं रख सकती वो अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर सकती। सुराज स्वराज्य का विकल्प नहीं हो सकता।
-पक्षी को जबतक आजादी नहीं मिलती उसका जीवन पंगु रहता है। देश की आजादी ने हमें क्या दिया ये कहकर हम स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान करते हैं। देश हमें बहुत कुछ दे रहा है।
-हमारे देश ने नए-नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं। हम अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर विखंडन के लिए आवाज उठाएं तो ये स्वतंत्रता नहीं हो सकती।
-हम लोग महाराष्ट्र और यूपी के बीच एक सांस्कृतिक एमओयू साइन करेंगे जिससे कहीं कोई भाषा का विवाद न हो।



क्या कहा डिप्टी सीएम ने

-डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा- "बाल गंगाधर तिलक ने सामाजिक जीवन मे रहते हुए बड़े क्रांतिकारी काम किए। उनको गरम दल का नेता कहा जाने लगा था। क्योंकि उन्होंने खेल कूद के माध्यम से, मंदिरों में भजन के माध्यम से, गौरक्षा के रक्षकों के माध्यम से लोगोx को जोड़कर इकट्ठा करना शुरू किया था।"
-उनका मानना था कि लोगों को धर्म और सामाजिक कार्यक्रमों के माध्यम से जोड़कर एक किया जा सकता है। उससे लोगों को देश भक्ति के लिए जाग्रत करते हुए, उनके अंदर अंग्रेजों के खिलाफ क्रांति लाने का काम किया।
-उनका ये सामाजिक कार्य जल्द ही मुम्बई से बढ़कर पूरे महाराष्ट्र में बढ़ने लगा। उन्होंने ने ही पहली बार लाठी ग्रुप का संचालन शुरू किया। जिसने अंग्रेजों को सोचने पर मजबूर किया।

स्वराज्य का दिया था नारा

-बाल गंगाधर तिलक को लोकमान्य तिलक के नाम से भी जाना जाता है। वर्ष 1916 में लोकमान्य तिलक ने "स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं इसे लेकर रहूंगा" का नारा दिया था।

इसलिए हो रहा है आयोजन

-लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक ने नारा दिया था- "स्वराज हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है"। 30 दिसंबर को इस नारे के 101 वर्ष पूरे हो रहे हैं। इस दिन तिलक हाल में 11 बजे एक भारत-श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम का आयोजन होगा।

क्या कहना है मंत्री का


-मंत्री सिद्धार्थनाथ ने बताया- "इस आयोजन का सुझाव राज्यपाल राम नाईक ने दिया था। इसे स्वीकार किया गया है। इस आयोजन में सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। विशेष रूप से महाराष्ट्र की संस्कृति पर आधारित कार्यक्रम यहां होंगे और उत्तर प्रदेश से जुड़े कार्यक्रम महाराष्ट्र में प्रस्तुत किये जाएंगे।"

सरदार पटेल की जयंती भी मनाती है बीजेपी


-देश के पहले गृहमंत्री और उपप्रधानमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती भी बीजेपी मनाती है। सरकार पटेल की जयंती के अवसर पर बीजेपी द्वारा देश भर में 'रन फॉर यूनिटी' (एकता की दौड़) का आयोजन किया जाता है।

कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए मुंबई के सीएम देंवेद्र फड़नवीस लखनऊ पहुंचे। कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए मुंबई के सीएम देंवेद्र फड़नवीस लखनऊ पहुंचे।
बाल गंगाधर तिलक को लोकमान्य तिलक के नाम से भी जाना जाता है। बाल गंगाधर तिलक को लोकमान्य तिलक के नाम से भी जाना जाता है।
yogi government organise tilak mahotsav in lucknow
yogi government organise tilak mahotsav in lucknow
X
मेरठ की आलिया खान ने कार्यक्रम में गीता पाठ किया।मेरठ की आलिया खान ने कार्यक्रम में गीता पाठ किया।
कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए मुंबई के सीएम देंवेद्र फड़नवीस लखनऊ पहुंचे।कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए मुंबई के सीएम देंवेद्र फड़नवीस लखनऊ पहुंचे।
बाल गंगाधर तिलक को लोकमान्य तिलक के नाम से भी जाना जाता है।बाल गंगाधर तिलक को लोकमान्य तिलक के नाम से भी जाना जाता है।
yogi government organise tilak mahotsav in lucknow
yogi government organise tilak mahotsav in lucknow
Click to listen..