--Advertisement--

सीएम योगी ने किया साहित्यकारों का सम्मान, बोले- हिंदी ने भारत को समेटने की कोशिश की

इस कार्यक्रम में सीएम योगी के साथ विधानसभा स्पीकर भी मौजूद थे।

Danik Bhaskar | Jan 22, 2018, 04:21 PM IST
2016 में साहित्यकारों के योगदान के लिए सीएम योगी ने सम्मानित किया। 2016 में साहित्यकारों के योगदान के लिए सीएम योगी ने सम्मानित किया।

लखनऊ. यूपी हिंदी संस्थान की तरफ से सीएम आवास पर साहित्यकारों का सम्मान किया गया। इस कार्यक्रम में सीएम योगी के साथ विधानसभा स्पीकर हृदय नारायण दीक्षित,संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. सदानंद प्रसाद गुप्त और डॉ. आनंद प्रकाश दीक्षित मौजूद रहे। इस कार्यक्रम में हिंदी साहित्य के विद्वानों को साल 2016 में उनके योगदान के लिए सम्मानित किया गया। यहां सिमटा में पूरा भारत: योगी

- सीएम योगी ने कहा, "तमिलनाडु, महाराष्ट्र, बंगाल, कर्नाटक, केरल, राजस्थान, कश्मीर और देश के अन्य क्षेत्रों से भी साहित्यकार यहां पर आए हैं। इस सम्मान समारोह के जरिए पूरे भारत को समेटने की कोशिश हो रही है। वास्तव में यही भूमिका हिंदी की होनी चाहिए।"

इन लोगों को किया गया सम्मानित

- सर्वोच्च भारत-भारती सम्मान- डॉ. आनंद प्रकाश दीक्षित
- हिंदी गौरव सम्मान- डॉ. विद्याबिंदु सिंह
- लोहिया साहित्य- आनन्द मिश्र
- अवंतीबाई साहित्य सम्मान- नेत्रपाल सिंह
- डॉ. नन्द किशोर आचार्य - महात्मा गांधी साहित्य सम्मान
- डॉ. महेश चन्द्र शर्मा- पं. दीनदयाल उपाध्याय साहित्य सम्मान
- राजर्षि पुरुषोत्तमदास टंडन सम्मान- चेन्नई की संस्था साहित्यानुशीलन को सम्मान

ये समारोह यूपी हिंदी संस्था की तरफ से आयोजित किया गया था। ये समारोह यूपी हिंदी संस्था की तरफ से आयोजित किया गया था।