--Advertisement--

मेक इन UP: इन्वेस्टर्स मीट-2018 के ल‍िए कैब‍िनेट मंत्री देशभर में करेंगे रोड शो, ये है योजना

लखनऊ: कैबिनेट मंत्री सतीश महाना टीम के साथ 18 दिसंबर 2017 को बेंगलुरु से इसकी शुरुआत करेंगे।

Danik Bhaskar | Dec 17, 2017, 05:52 PM IST
21-22 फरवारी 2018 को आयोज‍ित होने वाले इन्वेस्टर्स मीट के ल‍िए कैब‍िनेट मंत्री सतीश महाना रोड शो करेंगे। 21-22 फरवारी 2018 को आयोज‍ित होने वाले इन्वेस्टर्स मीट के ल‍िए कैब‍िनेट मंत्री सतीश महाना रोड शो करेंगे।

लखनऊ. यूथ को रोजगार और प्रदेश के डेवलपमेंट को लेकर बनाए गए प्रोग्राम 'मेक इन यूपी' को बनाने के लिए कैबिनेट मंत्री सतीश महाना और उनकी पूरी टीम देशभर में रोड शो करेंगे। बता दें, 21-22 फरवरी 2018 को यूपी में होने वाले इन्वेस्टर्स मीट में बिजनेस घरानों और अन्य बिजनेसमैन को आकर्ष‍ित करने के लिए कार्यक्रम का आयेाजन किया जाना है। dainikbhaskar.com से बातचीत में सतीश महाना ने कहा, ''पीएम मोदी स्वयं कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे। 1 लाख करोड़ का इन्वेस्टमेंट लाने की योजना बनाई गई है।'' इनवेस्टर्स को लुभाने के लिए पूरे देश में होगा रोड शो, 18 दिसंबर को बेंगलुरु से होगी शुरुआत...



- फरवरी 2018 में होने वाले इन्वेस्टर्स मीट में ज्यादा से ज्यादा इन्वेस्टर्स को लाने के लिए यूपी के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना अपनी पूरी टीम के साथ देशभर में रोड शो करेंगे।
- इसके पीछे एक बड़ा कारण यूपी की छवि को साफ-सुथरी, बिजनेस फ्रेंडली और सुरक्षित दिखाने की भी है, ताक‍ि यहां पर ज्यादा से ज्यादा बिजनेस प्लांट को लगाया जा सके।
- इससे यूपी में उद्योग-धंधों को बढ़ावा और बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा। इस सम्म‍िट में देश और विदेश से 5 हजार से ज्यादा बड़े बिजनेसमैन के शामिल होने की संभावना है।
- इस रोड शो को ज्यादातर मुम्बई, बेंगलुरु, गोवा, कोलकाता, दिल्ली, चंडीगढ़, पंजाब और हैदराबाद में रखा जाएगा।
- कैबिनेट मंत्री सतीश महाना टीम के साथ 18 दिसंबर 2017 को बेंगलुरु से शुरुआत करेंगे। इसके बाद 19 दिसंबर को हैदराबाद और 22 दिसंबर 2017 को मुम्बई में रोड शो किया जाएगा।
- इसके बाद अलग-अलग शहर में अलग-अलग डेट पर कार्यक्रम को बनाकर उसे चलाया जाएगा।

क्यों जरूरी है ये रोड शो, क्या है 'मेक इन यूपी'
- मार्च 2017 विधानसभा में जीत के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने 'मेक इन इंडिया' की तर्ज पर 'मेक इन यूपी' का नारा दिया था। ताक‍ि बाहर के इंन्वेस्टर्स को यूपी में लाकर बिजनेस फ्रेंडली माहौल दिया जाएगा।

-इससे यहां के यूथ को रोजगार मिलेगा। इसी उद्देश्य से इन्वेस्टर्स मीट 2018 का आयोजन किया जा रहा है।

1069 फाॅरेन इन्वेस्टर्स समेत सैकड़ों बिजनेसमैन होंगे शाम‍िल

- मंत्री सतीश महाना ने बताया, इन्वेस्टर्स मीट में लगभग 1069 फाॅरेन इन्वेस्टर्स को भी बुलाया गया है जिसमें ज्यादातर एनआरआई हैं।
- साथ ही 5 हजार से ज्यादा डेलि‍गेट्स विभिन्न क्षेत्रों के लोग शामिल होंगे। इससे 1 लाख करोड़ निवेश आने की संभावना है।
- तीन पार्टनर कंट्री नीदरलैंड, मॉरि‍शस और फिनलैंड के उद्योगपति इस सम्म‍िट में शामिल होने की सहमति मिल चुकी है। बाकी देशों के उद्योगपतियों का कन्फर्मेशन भी जल्दी मिल जाएगा।
- प्रदेश के 22 विभागों को पूंजी निवेश कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिनमें प्रमुख रूप से आईटी इलेक्ट्रॉनिक्स, एग्रो एंड फूड प्रोसेसिंग, ऊर्जा, यूपीएसआईडीसी, ग्रेटर नोएडा, वाईईआईडीए, पर्यटन, डेरी डेवलेपमेंट, सिविल एविएशन और पशुधन विभाग शामिल हैं।

दुरुस्त हो व्यवस्था, दुल्हन की तरह सजेगी लखनऊ
- मंत्री ने कहा, ''प्रदेश सरकार का यह पहला इवेंट है, जो इतने भव्य स्तर पर आयोजित किया जा रहा है। लखनऊ को दुल्हन की तरह सजाया जाएगा।''
- ''समिट से एक हफ्ते पहले ही पूरे यूपी को हाईअलर्ट पर रखा जाएगा, जिससे किसी भी तरह का माहौल न बिगड़ने पाए।''

- ''शहर में जितनी भी होर्ड‍िंग्स लगाई जाए, सुंदर और आकर्षक होनी चाहिए। अवैध होर्ड‍िंग को हटाया जाए। यातायात व्यवस्था बेहतर होनी चाहिए। सड़कों को दुरूस्त किया जाए।''