--Advertisement--

68 साल बाद पहली बार स्थापना दिवस मना रहा UP, उपराष्ट्रपति करेंगे 'यूपी दिवस' की शुरुआत

प्रदेश की स्थापना दिवस मानते हुए पहली बार यूपी दिवस के आयोजन की परंपरा शुरू की गई है।

Dainik Bhaskar

Jan 24, 2018, 08:29 AM IST
यूपी में पहली बार यूपी दिवस की शुरुआत हो रही है। यूपी में पहली बार यूपी दिवस की शुरुआत हो रही है।

लखनऊ. यूपी की स्थापना के 68वें वर्ष में सरकार बुधवार को अपना पहला स्थापना दिवस माना रही है। स्थापना दिवस को 'यूपी दिवस' का नाम दिया गया हैं। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने यूपी दिवस की शुरुआत की। उपराष्ट्रपति ने दीप प्रज्ज्वलित कर 'यूपी दिवस' और 'लखनऊ महोत्सव' का उद्घाटन किया। सीएम योगी ने मुख्य अतिथि उपराष्ट्रपति का स्वागत कन्नौज का इत्र, लखनऊ का चिकन और भगवान राम की मूर्ति भेंट करके की। सीएम योगी ने राज्यपाल राम नाईक का भी सम्मान किया। गणेश वंदना के बाद संस्कृति विभाग की यूपी के सभी 5 अंचलों, अवध, बृज, बुंदेलखंड, पूर्वांचल और पश्चिमी यूपी की झांकी प्रस्तुति की गई।


थीम सांग बनाने वाले सब-इंस्पेक्टर का सम्मान

-उपराष्ट्रपति ने सब-इंस्पेक्टर कुलदीप सिंह को थीम सांग लिखने पर सम्मानित किया। राजभवन में तैनात सब-इंस्पेक्टर कुलदीप सिंह ने इस थीम सांग की रचना की है जिसे सोनू निगम ने गाया है।

क्या कहा योगी आदित्यनाथ ने ?

-कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा, हम सब के लिए ये गौरव का क्षण है। मैं उत्तर प्रदेश में प्रथम दिवस के अवसर पर उपराष्ट्रपति का स्वागत करता हुं और राम नाईक जी के प्रति बधाई देता हूं कि उन्होंने यूपी दिवस के लिए हमें प्रेरित किया। प्रदेश में नई सरकार के गठन के बाद राज्यपाल ने यूपी स्थापना दिवस मनाने पर जोर दिया था।
-यूपी देश का सबसे बड़ा, सबसे महत्वपूर्ण प्रदेश है। यूपी के विकास के बिना भारत का विकास नहीं होगा। भारत को विश्व शक्ति बनाने के लिए यूपी का योगदान ज़रूरी है। अगर भारत का विकास करना है तो सबसे पहले उत्तर प्रदेश का विकास करना होगा, भारत का विकास उत्तर प्रदेश से ही होकर जाता है। इसी कारण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उत्तर प्रदेश पर विशेष अनुकंपा है।
-यूपी के राज्य चिन्ह में भगवान राम का प्रतीक धनुष बाण लगाया गया है। योगी आदित्यनाथ भारत की पहचान जिन नामों से होती है उनमें भगवान बुद्ध भी एक हैं।

25 हजार करोड़ रुपये की योजना की शुरुआत

- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान 25 हजार करोड़ रुपये की योजनाओं की शुरुआत भी। गांव, शहर, किसान, नौजवान, उद्योग, शिक्षा, सेहत, ऊर्जा, संस्कृति सहित समाज के हर क्षेत्र और विकास के हर पहलू को आयोजन से जोड़ा गया है।


अवध शिल्प ग्राम में आयोजित होगा कार्यक्रम

-यूपी दिवस का आयोजन अवध शिल्प ग्राम में किया गया है। डीएम कौशल राज शर्मा ने बताया कि पहले तीन दिन तक दर्शकों को कोई टिकट नहीं खरीदना होगा। इन तीन दिनों तक शाम 5.30 बजे से रात 10 बजे तक के सांस्कृतिक कार्यक्रमों की जिम्मेदारी संस्कृति विभाग की होगी।


राज्यपाल ने कहा- मिला भावनात्मक समाधान

-वहीं, राज्यपाल राम नाईक ने मंगलवार को कहा, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस मनाने के निर्णय से भावनात्मक समाधान मिला है। जीवन में चार ऐसी घटनायें हैं जिनसे उन्हें बहुत समाधान है। उन्होंने कहा कि संसद में राष्ट्रगान व राष्ट्रगीत गाया जाना, बम्बई और बाम्बे को परिवर्तित करके असली नाम मुंबई दिलाना, सांसद निधि की शुरूआत कराना तथा बाबा साहब आंबेडकर का सही नाम लिखे जाने पर उन्हें बहुत संतोष है।
-उन्होंने कहा, 2014 में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को पत्र लिखा, कई बार चर्चा हुई पर मुख्यमंत्री ने उनकी सलाह का उपयोग नहीं किया। नई सरकार आने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा। 1 मई को मुख्यमंत्री ने राजभवन में आयोजित महाराष्ट्र दिवस के अवसर पर उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस मनाये जाने की घोषणा की थी।
-उन्होंने कहा कि 68 वर्ष के बाद सरकार उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस को पहचान दे रही है, वास्तव में यह ऐतिहासिक दिवस होगा।


इसलिए 24 जनवरी को मनाया जा रहा है यूपी दिवस

-आपको बता दें कि आजादी के पहले अपना यूपी का नाम युनाइटेड प्रोविंस (यूपी) था। आजादी के बाद 24 जनवरी, 1950 को इसका नामकरण उत्तर प्रदेश हुआ। इस तिथि को ही प्रदेश की स्थापना दिवस मानते हुए पहली बार यूपी दिवस के आयोजन की परंपरा शुरू की गई है।

ये कार्यक्रम होंगे खास

-आज होने वाले कार्यक्रम 'एक जिला एक उत्पाद' योजना का शुभारंभ होगा। इसी पर आधारित लघु फिल्म का प्रदर्शन, पुस्तक का विमोचन और मुद्रा योजना के तहत एक जिला एक उत्पाद योजना के लाभार्थियों को चेक वितरण किया जाएगा।
-स्टैंड अप यूपी के लाभार्थियों में चेक वितरण किया जाएगा। विकास परियोजनाओं का शिलान्यास/लोकार्पण। नयी सोलर पालिसी का शुभारंभ। उप्र की संरचना से संबंधित संस्कृति विभाग की स्मारिका का विमोचन और पोषण एप की लॉचिंग।

ये राज्य मनाते हैं अपना स्थापना दिवस

- यूपी पहली बार अपना स्थपाना दिवस मना रहा है। इससे पहले नगालैंड, मध्यप्रदेश , छत्तीसगढ़, बिहार, राजस्थान, ओडिशा, तमिलनाडु, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड, गोवा, सिक्किम और तेलंगाना राज्य अपना स्थापना दिवस मनाते हैं।

Yogi government to celebrate up diwas
राज्यपाल ने सरकार ने की थी यूुपी दिवस मनाने की मांग। राज्यपाल ने सरकार ने की थी यूुपी दिवस मनाने की मांग।
राज्यपाल ने सरकार ने की थी यूुपी दिवस मनाने की मांग। राज्यपाल ने सरकार ने की थी यूुपी दिवस मनाने की मांग।
Yogi government to celebrate up diwas
X
यूपी में पहली बार यूपी दिवस की शुरुआत हो रही है।यूपी में पहली बार यूपी दिवस की शुरुआत हो रही है।
Yogi government to celebrate up diwas
राज्यपाल ने सरकार ने की थी यूुपी दिवस मनाने की मांग।राज्यपाल ने सरकार ने की थी यूुपी दिवस मनाने की मांग।
राज्यपाल ने सरकार ने की थी यूुपी दिवस मनाने की मांग।राज्यपाल ने सरकार ने की थी यूुपी दिवस मनाने की मांग।
Yogi government to celebrate up diwas
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..