Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Cbse Ugc Net 2017 Examination

यूजीसी नेट- 2017: स्टूडेंट्स ने कहा- उम्मीद से ज्यादा टफ आया था पेपर

राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा(यूजीसी नेट -2017) राजधानी के 50 केंद्रों पर हुई, परीक्षा के लिए 27 हजार कैडिडेंट्स पंजीकृत थे।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 05, 2017, 12:25 PM IST

  • यूजीसी नेट- 2017:  स्टूडेंट्स ने कहा- उम्मीद से ज्यादा टफ आया था पेपर
    +2और स्लाइड देखें
    पहली पाली में हुई परीक्षा में बालिका शिक्षा, उच्च शिक्षा, रिसर्च के सिद्धांत समेत शिक्षा से जुड़े सवाल सबसे ज्यादा पूछे गए थे।
    लखनऊ. रविवार को सीबीएसई द्वारा आयोजित विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) की राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (यूजीसी नेट -2017) राजधानी के 50 केंद्रों पर हुई। परीक्षा के लिए 27 हजार कैडिडेंट्स पंजीकृत थे, जबकि उपस्थिति 85 प्रतिशत रही। पहली पाली में जनरल नॉलेज की परीक्षा 9:30 बजे से शुरू हुई और 10:45 बजे समाप्त हो गई। ये परीक्षा 100 विषयों और लगभग 84 भाषाओं में आयोजित की गई थी। उम्मीद से ज्यादा टफ था पेपर
    -पहली पाली में हुई जनरल नॉलेज की परीक्षा में शिक्षा से जुड़े सवाल सब पर भारी रहे। 100 नंबर के 100 प्रश्न पूछे गए थे। बालिका शिक्षा, उच्च शिक्षा, रिसर्च के सिद्धांत समेत शिक्षा से जुड़े सवाल सबसे ज्यादा पूछे गए थे।
    -परीक्षा देकर सेंटर से निकले खदरा निवासी अमर रस्तोगी (29) और राकेश वर्मा ने बताया कि उन्हें उम्मीद थी कि हाईकोर्ट की आरओ-एआरओ परीक्षा की तरह से इसमें समसामयिक मुद्दों पर सवाल पूछे जाएंगे। इसी तरह से हमने तैयारी भी की थी, लेकिन इनसे चार-पांच प्रश्न ही पूछे गए, बाकी सभी सवाल पुराने पैटर्न पर रहे।
    -बालिका शिक्षा, उच्च शिक्षा, रिसर्च के सिद्धांत समेत शिक्षा से जुड़े सवाल सबसे ज्यादा पूछे गए थे। कुल मिलाकर पेपर उम्मीद से ज्यादा टफ आया था।
    -राजाजीपुरम निवासी कैलाश सिंह (30) ने कहा- "पोलिटिकल साइंस में इस बार अंतरराष्ट्रीय संबंधों पर अधिक फोकस था। संविधान से जुड़े सवाल पूछे ही नहीं गए।"
    -चौक निवासी इरशाद अहमद (32) ने कहा- "काव्य पंक्तियों से जुड़े सवालों ने काफी उलझाया। उर्दू लेखकों के जन्म से जुड़े सवालों में विकल्पों को लेकर असमंजस की स्थिति रही।"
    -एपी सेन रोड निवासी राहुल गुप्ता के मुताबिक पत्रकारिता विषय के पेपर में सनसनीखेज पत्रकारिता पर सवाल पूछे गए। जनर्लिज्म के प्रश्न हल करने में काफी प्रॉब्लम आई थी। पेपर के हिसाब से टाइम कम मिला। कुल मिलाकर पेपर कुछ खास अच्छा नहीं रहा।
  • यूजीसी नेट- 2017:  स्टूडेंट्स ने कहा- उम्मीद से ज्यादा टफ आया था पेपर
    +2और स्लाइड देखें
  • यूजीसी नेट- 2017:  स्टूडेंट्स ने कहा- उम्मीद से ज्यादा टफ आया था पेपर
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×