Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» FIR Not Registered In NTPC Incident

NTPC हादसा: CM के आदेश के बाद भी नहीं हुई FIR, अफसर बोलेे- जिसे करना था रिपोर्ट कर दिया

NTPC हादसे पर सीएम योगी ने पूछा था अभी तक मामले में एफआईआर क्यों नहीं दर्ज की गयी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 05, 2017, 04:07 PM IST

  • NTPC हादसा: CM के आदेश के बाद भी नहीं हुई FIR, अफसर बोलेे- जिसे करना था रिपोर्ट कर दिया
    +1और स्लाइड देखें
    सीएम योगी आदित्यनाथ हादसे में घायल लोगों को देखने के लिए अस्पताल पहुंचे थे (फाइल)।
    लखनऊ. एनटीपीसी हादसे के 4 दिन बीत गये हैं। हादसे में अभी तक कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई गयी है। वही, एनटीपीसी ने एफआईआर मामले से पल्ला झाड़ लिया है। एनटीपीसी का कहना है कि हमें जिसे इन्फॉर्म करना था हमने कर दिया है। वहीं, आपको बता दें कि शनिवार को मॉरीशस से लौटने के बाद सीएम योगी सीधे सिविल अस्पताल पहुंचकर घायलों का हाल लेने पहुंचे थे। यहां उन्होंने पूछा था कि अभी तक मामले में एफआईआर क्यों नहीं दर्ज की गयी, लेकिन एनटीपीसी के ताजा बयान से यही लग रहा है कि अब सीएम का आदेश भी बेअसर हो गया है।
    क्या था मामला
    -बीते बुधवार को एनटीपीसी की नई यूनिट नंबर 6 में बॉयलर फट गया था। जिसकी चपेट में आने से अब तक 33 लोगों की मौत हो गयी है। इस मामले में रविवार शाम तक कोई एफआईआर नहीं दर्ज हुई है।
    -जबकि शनिवार को मॉरीशस दौरे से लौटने के बाद ही सीएम योगी ने एफआईआर क्यों नहीं दर्ज की गयी का सवाल भी अधिकारीयों से पूछा था।
    -दरअसल, भले ही घायलों और मृतकों का आंकड़ा अभी 92 तक पहुंचा हो लेकिन एनटीपीसी के कई वर्कर्स का कहना है कि मौतें ज्यादा हुई हैं लेकिन प्रशासन मामले को छुपाना चाहता है।
    एनटीपीसी नहीं दर्ज कराएगा मुकदमा

    -एनटीपीसी की पीआरओ रूचि रत्ना ने आधिकारिक मेल द्वारा बताया कि ऊंचाहार एनटीपीसी में हुई घटना की नियमानुसार सभी लोगों को जानकारी दे दी गयी है।
    -मेल द्वारा उन्होंने बताया कि एनटीपीसी फैक्ट्री एक्ट के तहत आता है और जो भी दुर्घटना होती है वह कारखानों के इंस्पेक्टर को विधिवत रिपोर्ट की जाती है। फैक्ट्री अधिनियम के तहत सूचना भी स्थानीय जिला प्रशासन और अन्य अधिकारियों को सूचित करने के अलावा श्रम विभाग को भेजी गई है।
    क्या कहना है पुलिस विभाग का

    -एनटीपीसी मामले पर एडीजी कानून व्यवस्था आनंद कुमार ने कहा-"इस मामले में मुकदमा दर्ज होगा या नहीं इसका फैसला रविवार रात तक होगा। उन्होंने कहा इस मामले में शासन में मंथन हो रहा है। अगर कोई फैसला होता है तो रायबरेली के ऊंचाहार में मामला दर्ज किया जायेगा।"
    क्या है नियम
    -नियम के मुताबिक, किसी घटना में कोई एफआईआर जब नहीं दर्ज होती है तो पुलिस को लिखित शिकायत की जरूरत नहीं होती है। वह जिस ठाणे का मामला है उसे दर्शा कर मामला दर्ज कर सकती है।
  • NTPC हादसा: CM के आदेश के बाद भी नहीं हुई FIR, अफसर बोलेे- जिसे करना था रिपोर्ट कर दिया
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×