Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Raja Bhaiya Says Gayatri Prajapati Is Innocent

गायत्री प्रजापत‍ि के बचाव में उतरे राजा भैया, बोले- गायत्री निर्दोष हैं, मैं उनके साथ हूं

सुल्तानपुर: राजा भैया इंटरमीडिएट कॉलेज में विद्यालय संस्थापक राजा बद्रीप्रताप सिंह की प्रतिमा का अनावरण करने पहुंचे थे।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 06, 2017, 06:44 PM IST

  • गायत्री प्रजापत‍ि के बचाव में उतरे राजा भैया, बोले- गायत्री निर्दोष हैं, मैं उनके साथ हूं
    +1और स्लाइड देखें
    रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने कहा, गायत्री मामले में कोर्ट सुनवाई कर रहा है। जल्द ही सही-गलत का फैसला हो जाएगा।
    सुल्तानपुर.सपा सरकार के कद्दावर नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने मीडिया से बातचीत के दौरान पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति का बचाव करते नजर आए। उन्होंने कहा, ''गायत्री निर्दोष हैं, हम उनके साथ हैं।'' राजा भैया सोमवार को बल्दीराय तहसील के तिरहुत बाजार स्थित इंटरमीडिएट कॉलेज में विद्यालय संस्थापक राजा बद्रीप्रताप सिंह की प्रतिमा का अनावरण करने पहुंचे थे।राजा भैया ने कहा, मीडिया ट्रायल की चुकाना पड़ता है भारी कीमत...

    -रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने कहा, गायत्री मामले में कोर्ट सुनवाई कर रहा है। जल्द ही सही-गलत का फैसला हो जाएगा। गायत्री का बचाव करते हुए उन्होंने मीडिया को आड़े हाथों लिया और कहा, कभी-कभी हम लोगों को मीडिया ट्रायल की भारी कीमत चुकाना पड़ता है।
    चाहे जिसकी हो सरकार, नहीं बंद होगा क्राइम
    -उन्होंने वर्तमान सरकार और कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा, सरकार चाहे जिसकी हो, लेकिन क्राइम बंद नहीं होगा। बड़ी बात ये है कि क्राइम के बाद पुलिस किस तरह से न्याय करती है।
    -पिछली सरकार के द्वारा किए गए कार्यों की जांच जरूर होनी चाहियए, लेकिन जांच के साथ काम भी कराया जाना जरूरी होता है।
    ये दिग्गज नेता भी रहे मौजूद
    -कार्यक्रम में एमएलसी अक्षय प्रताप सिंह, एमएलसी शैलेन्द्र प्रताप सिंह, पूर्व विधायक चन्द्रभद्र सिंह 'सोनू', गौरीगंज विधायक राकेश सिंह, सदस्य जिला पंचायत व पूर्व ब्लॉक प्रमुख यशभद्र सिंह 'मोनू' सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।
    कौन हैं गायत्री प्रजापति?
    -गायत्री प्रजापति पर रेप और भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे हैं। उन्हें तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव ने अपने मंत्रिमंडल से बर्खास्त भी किया था, लेकिन बाद में दोबारा शामिल कर लिया गया। इस बार उन्होंने समाजवादी पार्टी के टिकट पर अमेठी से किस्मत आजमाई, लेकिन हार गए थे।
    -यूपी चुनाव के दौरान आचार संहिता उल्लंघन का मामला देखने को मिला था, जब कानपुर से अमेठी ले जाई जा रही 4000 साड़ियों की एक खेप को पुलिस ने पकड़ा, बिल पर भी गायत्री प्रजापति का नाम था। इस मामले में केस दर्ज हुआ था।

    बीपीएल कार्ड से की थी करियर की शुरुआत, आज हैं 942 करोड़ की संपत्त‍ि
    - सोशल एक्टिविस्ट नूतन ठाकुर के मुताबिक, यूपी सरकार में गायत्री प्रजापति के करियर का ग्राफ दस साल में फर्श से अर्श तक पहुंच गया।
    - साल 2002 में वो बीपीएल कार्ड धारक हुआ करते थे, लेकिन अब उनकी संपत्त‍ि 942 करोड़ पहुंच गई है।
    - खबरों के मुताबिक करीब 13 कंपनियों उनके अंडर चलती हैं।
    - 2017 के चुनावी हलफनामे में उनकी संपत्ति 10 करोड़ है, जबकि पिछली बार 1.83 करोड़ की घोषणा की थी।
  • गायत्री प्रजापत‍ि के बचाव में उतरे राजा भैया, बोले- गायत्री निर्दोष हैं, मैं उनके साथ हूं
    +1और स्लाइड देखें
    गायत्री प्रजापत‍ि। फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×