Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» UP Irrigation Minister Dharmpal Singh Dismissed Engineer Rajeshwar Singh Yadav

सिंचाई मंत्री ने इंजीनियर को किया बर्खास्त, इनकम टैक्स के छापे के बाद बड़ा एक्शन

भ्रष्टाचार के आरोपी इंजीनियर राजेश्वर सिंह के घर समेत कई ठिकानों पर इनकम टैक्स ने छापा मारा था।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 14, 2017, 06:41 PM IST

  • सिंचाई मंत्री ने इंजीनियर को किया बर्खास्त, इनकम टैक्स के छापे के बाद बड़ा एक्शन
    +1और स्लाइड देखें
    आरोपी इंजीनियर राजेश्वर सिंह यादव। (फाइल)
    लखनऊ.इनकम टैक्स के छापे के बाद सिंचाई विभाग में इंजीनियर राजेश्वर सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। इसके अलावा सिंचाई विभाग के 35 अफसर पर भी सस्पेंशन की कार्रवाई की गई है। इन सभी पर सरकारी पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप है। यूपी के सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेस में यह जानकारी दी। मंत्री ने कहा- उनकी सरकार करप्शन करने वाले किसी भी अफसर और कर्मचारी को नहीं बख्शेगी। IT के छापे के बाद हुई ये कार्रवाई...
    - मंत्री ने कहा- हमने पूरी पारदर्शी सरकार चलाने को लेकर काम शुरू किया है। इसमें किसी प्रकार का कोई भी गलत काम करने वाले अधिकारी बख्शे नहीं जाएंगे।
    - ये सबक है ऐसे भ्रष्टाचारी अधिकारियों के लिए है जो निजी स्वार्थ में रहकर लूटने का काम करते हैं। इंजीनियर डीपी सिंह को भी सस्पेंड किया गया है। इनके ऊपर बाढ़ के दौरान काम में लापरवाही बरतने का आरोप है।
    क्या है राजेश्वर सिंह का मामला
    - इनकम टैक्स की टीम ने सिंचाई विभाग में सुप्रिटेंडेट इंजीनियर राजेश्वर सिंह यादव के 22 ठिकानों पर छापेमारी की थी। ये 22 ठिकाने 7 शहरों में थे। ये छापा नोएडा, आगरा, एटा, दिल्ली, गुरुग्राम समेत कई ठिकानों पर था।
    - बताया जा रहा है कि सपा सरकार में इसके कई रसूखदार नेताओं से संबंध थे। उन्हीं के बल पर इसने विभाग में अपनी ठेकेदारी शुरू की।
    - सीनियर इनकम टैक्स अफसर के मुताबिक, "राजेश्वर सिंह यादव ने भाई और साले के नाम से फर्जी कंपनियां बनाई थी। गुरुग्राम में साले के घर हुई छापेमारी में इनकम टैक्स की टीम को दो ब्रीफकेस में 25 लाख रुपए नकद और ज्वैलरी मिली।"
    - अघोषित संपत्तियों में कई दस्तावेज और शेयर मार्केट में इनवेस्ट के सबूत मिले हैं। इसके अलावा 22 ठिकानों पर हुई छापेमारी में 2.5 करोड़ की नगदी और ज्वैलरी बरामद की गई है। ऐसा बताया जा रहा है कि राजेश्वर सिंह के पास 200 करोड़ की संपत्ति है।"
    शिवपाल के करीबी हैं राजेश्वर सिंह यादव
    - बताया जा रहा है- शिवपाल सिंह के काफी करीबी लोगों में राजेश्वर का नाम है। इसके अलावा सपा के कई रसूखदार नेताओं से इसके अच्छे रिलेशन हैं।
    - आगरा के लायर्स कालोनी में राजेश्वर की साढ़े चार सौ गज में आलीशान कोठी बनी है। जानकारों की मानें तो इसकी कीमत करीब 50 करोड़ रुपए है। वहीं, लायर्स कालोनी में राजेश्वर की कोठी नंबर-6 के 100-100 कदम की दूरी पर ही उनके ससुर और रिश्तेदार की भी कोठी है।
    - यहां के शिवालिक रेजिडेंसी में राजेश्वर के ससुर प्रवीण सिंह के फ्लैट पर और उसकी कोठी के पास ही एक अन्य रिश्तेदार के घर इनकम टैक्स ने जांच की। प्रवीण यादव पुलिस विभाग के राजपत्रित अधिकारी के पद से रिटायर्ड हुए हैं और यहां पत्नी के साथ रहते हैं।
    नदी और नहरों की सफाई हाईटेक मशीनों से करेंगे
    - धर्मपाल सिंह ने बताया, "हम इस बार नदी और नहरों की सफाई पहले ही पूरा कर लेंगे, जिससे की बारिश में कोई दिक्कत न हो। इस बार जमीं हुई सिल्ट को निकालने के लिए हम हाईटेक मशीनों का प्रयोग करेंगे,जिससे कम समय में क्वालिटी काम हो सकेगा।
    - इससे समय और पैसे की भी बचत होगी। उसी पैसे और समय में हम नहरों का चौड़ी करण कर सकते हैं। 5 दिसंबर तक सिल्ट सफाई का काम कर लिया जाएगा, पूर्वांचल में 15 दिसंबर तक तारीख रखी गई है।"
  • सिंचाई मंत्री ने इंजीनियर को किया बर्खास्त, इनकम टैक्स के छापे के बाद बड़ा एक्शन
    +1और स्लाइड देखें
    ईडी के छापे के बाद मंत्री धर्मपाल सिंह ने इंजिनियर राजेश्वर सिंह को बर्खास्त कर दिया। (फाइल)
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×