उप्र / भाजपा विधायक आशीष ने कुलदीप सेंगर को दी शुभकामनाएं; कहा- हमारे "आदरणीय भाई" मुश्किल दौर में



X

  • नगर पंचायत के नवनिर्वाचित अध्यक्ष रामनरेश कुशवाहा के शपथ ग्रहण समारोह में दिया बयान
  • कहा- जल्द ही मुश्किल वक्त से बाहर निकलेंगे सेंगर
  • उन्नाव केस पीड़िता के एक्सीडेंट के बाद भाजपा ने कुलदीप सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर दिया था

Dainik Bhaskar

Aug 03, 2019, 07:03 PM IST

लखनऊ. उन्नाव दुष्कर्म मामले में जेल में बंद विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को अपना आदरणीय भाई बताते हुए हरदोई के मल्लावां से भाजपा विधायक आशीष सिंह ने कहा कि वह मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी शुभकामनाएं उनके साथ हैं। वह जल्द ही इस मुश्किल से पार पा लेंगे। वह शुक्रवार को उन्नाव जिले की नगर पंचायत गंजमुरादाबाद के नवनिर्वाचित अध्यक्ष रामनरेश कुशवाहा के शपथ ग्रहण समारोह में बोल रहे थे।

 

विधायक ने मंच से कहा, ''हम सबके भाई आदरणीय कुलदीप सिंह सेंगर जो कठिनाइयों के दौर से गुजर रहे हैं। वह आज हम सबके बीच नहीं हैं, यह समय का कालचक्र है। हम सबकी शुभकामनाएं उनके साथ हैं। वह इन कठिनाइयों से लड़कर हम सबके बीच हमारा नेतृत्व करने पहुंचेंगे।'' 
 
विधायक कुलदीप सेंगर पर लगा है दुष्कर्म का आरोप
पीड़िता से 2017 में सामूहिक दुष्कर्म हुआ था। आरोप है कि विधायक कुलदीप सेंगर और अन्य ने नौकरी दिलाने के बहाने लड़की से दुष्कर्म किया। पीड़िता उस वक्त नाबालिग थी। बाद में पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई। आरोप है कि उसके पिता से विधायक ने ही मारपीट की थी।

 

पिता की मौत के बाद पीड़िता ने लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह की कोशिश की थी। इसके बाद एसआईटी को जांच सौंपी गई थी। पीड़िता के एक्सीडेंट के बाद मामले की जांच सीबीआई को दी गई है। बुधवार को भाजपा ने विधायक सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर दिया। सेंगर अभी सीतापुर की जेल में है।

 

सीबीआई ने कुलदीप से जेल में की पूछताछ

उन्‍नाव दुष्कर्म पीड़‍िता के साथ हुए एक्‍सीडेंट मामले की जांच कर रही सीबीआई टीम आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से पूछताछ करने सीतापुर कारागार पहुंची है। सीबीआई टीम में चार अफसर मौजूद रहे। इसके पहले सीबीआई की एक टीम पीड़िता के परिजनों का बयान लेने उन्नाव स्थित उनके घर पहुंची।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना