अंबेडकरनगर / लेखपालों ने एसडीएम चैंबर का किया घेराव, नारेबाजी के बीच काम में मशगूल रहे एसडीएम

एसडीएम कार्यालय में प्रदर्शन करते लेखपाल एसडीएम कार्यालय में प्रदर्शन करते लेखपाल
X
एसडीएम कार्यालय में प्रदर्शन करते लेखपालएसडीएम कार्यालय में प्रदर्शन करते लेखपाल

  • महिला लेखपालों का आरोप, बिना कारण के देर शाम तक तहसील में रोके रहते हैं एसडीएम
  • लेखपाल संघ ने आंदोलन की दी चेतावनी

Oct 30, 2018, 05:42 PM IST

अंबेडकरनगर. एसडीएम टांडा पर तानाशाही व उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए लेखपालों ने मंगलवार की दोपहर उनके चैंबर में जमकर हंगामा किया। लोग चैंबर में नारेबाजी करते रहे, इस बीच एसडीएम अपने काम में मशगूल दिखे। लेखपाल संघ के अध्यक्ष जयदेव पांडेय ने चेतावनी देते हुए कहा है कि, यदि एसडीएम अपना रवैया नहीं बदलते हैं तो बड़े स्तर पर आंदोलन किया जाएगा। 

 

देर शाम तक बिना कारण रोके रखते हैं एसडीएम: टांडा तहसील के लेखपाल संघ के अध्यक्ष जयदेव पांडेय के नेतृत्व में मंगलवार को लेखपालों ने एसडीएम कोमल यादव के चैंबर का घेराव किया और उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसकी वजह से कई घन्टे तक तहसील में अफरातफरी का माहौल बना रहा। महिला लेखपालों का आरोप है कि बिना किसी कारण के एसडीएम देर शाम तक तहसील में रोके रहते हैं।

ये भी पढ़ें

Yeh bhi padhein

 

छुट्‌टी देने के बाद काट लिया वेतन: आक्रोशित लेखपालों ने एसडीएम पर तानाशाही व उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए कहा कि एसडीएम टांडा अगर लेखपालों के प्रति अपना अड़ियल रवैया नहीं बदलते हैं तो उनके खिलाफ बड़ा आंदोलन चलाया जाएगा। अध्यक्ष जयदेव पांडेय ने कहा कि 23 अक्टूबर को लेखपाल मोहिंदर पटेल, कमलेश कुमार, आंचल सिंह व शैलेन्द्र सिंह के प्रार्थना पत्र पर तहसीलदार ने 28 अक्टूबर की छुट्टी मंजूर कर लिया था और चारों लेखपाल पीसीएस की परीक्षा देने चले गए थे। लेकिन एसडीएम ने चारों लेखपालों का वेतन काटने का निर्देश दे दिया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना