बाराबंकी / हड़ताली वकीलों ने जज के साथ गाली गलौच कर मारपीट की, अज्ञात पर केस दर्ज



कोर्टरूम में पहुंचे पुलिस कर्मी। कोर्टरूम में पहुंचे पुलिस कर्मी।
X
कोर्टरूम में पहुंचे पुलिस कर्मी।कोर्टरूम में पहुंचे पुलिस कर्मी।

  • बाराबंकी के मोटर दुर्घटना दावा अभिकरण के पीठासीन अधिकारी से जुड़ा है मामला
  • दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट के प्रकरण को लेकर शुक्रवार को हड़ताल पर रहे वकील

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2019, 04:52 PM IST

बाराबंकी. दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में पुलिस के साथ हुई मारपीट के मामले में शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के अधिवक्ता हड़ताल पर रहे। इस दौरान बाराबंकी में 40-50 वकीलों के झुंड द्वारा मोटर दुर्घटना दावा अभिकरण के पीठासीन अधिकारी (जज) के साथ मारपीट व बदसलूकी का मामला सामने आया है। जज की तहरीर पर इस मामले में अज्ञात वकीलों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। 

 

मोटर दुर्घटना दावा अभिकरण के पीठासीन अधिकारी संदीप जैन शुक्रवार की दोपहर अपने कार्यालय में बैठे थे। जैन ने बताया कि, वह कुछ जरूरी आदेश अपने आशुलिपिक से टाइप करा रहे थे। तभी तकरीबन 50 वकीलों ने उनके कार्यालय में जबरन घुसकर उत्पात मचाना शुरू कर दिया। वकीलों ने जज संदीप जैन का कॉलर पकड़ लिया और अभद्रता करते हुए मारपीट की। वकीलों ने धमकाया कि, हड़ताल के दिन काम क्यों कर रहे हो?

 

आरोप है कि, वकीलों ने उनके आशुलिपिक, गनर व स्टॉफ के साथ गाली गलौच व अभद्रता की। फोटो खींचने पर मोबाइल फोन छीन लिया और जमकर उत्पात मचाया। सन्दीप जैन ने पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर दोषी वकीलों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किए जाने की मांग की है।

 

अपर पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि, वकीलों ने ज्ञापन देकर अवगत कराया था कि, शुक्रवार को उनकी हड़ताल है। उसी क्रम में आज कुछ वकील एक जज संदीप जैन के यहां पहुंचकर उनसे व उनके स्टाफ से अभद्रता की है। इस संबंध में जज की तहरीर पर अज्ञात वकीलों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है। आगे जांच में जो तथ्य सामने आएंगे, उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। अभी अभद्रता की बात सामने आई है और सरकारी कार्य में बाधा डालने का अभियोग पंजीकृत किया गया है। सीसीटीवी कैमरे की भी जांच में यदि कोई फुटेज मिलता है तो उसे भी संज्ञान में लिया जाएगा।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना