--Advertisement--

निदा खान को राहत, तीन तलाक को बरेली कोर्ट ने ठहराया अमान्य

रजा खां ने 5 फरवरी, 2016 को तीन तलाक देकर निदा को घर से बाहर निकाल दिया था।

Danik Bhaskar | Jul 21, 2018, 03:44 PM IST

बरेली. बरेली जिला कोर्ट ने तीन तलाक की पीड़िता निदा खान को बड़ी राहत दी है। बरेली अदालत ने निदा खान को शौहर द्वारा दिये गये तीन तलाक को अमान्य घोषित किया है। वहीं, निदा के शौहर की याचिका को खारिज कर दिया है, जिसमें उसने घरेलू हिंसा के केस पर स्टे लगाने की मांग की थी। इस मामले की अगली सुनवाई 27 जुलाई को होगी। निदा के पति ने कोर्ट में कहा था कि उन्होंने निदा को तलाक दे दिया है इसलिए उन पर कोई केस नहीं बनता है। जिसके बाद कोर्ट ने शीरान की अर्जी को खारिज कर दिया।

- अदालत ने अपने फैसले में तीन तलाक को अमान्य कर दिया। अदालत ने शीरान की आपत्ति को खारिज करते हुए उस पर घरेलू हिंसा का केस चलाने की आदेश जारी कर दिया।


कौन हैं निंदा खान: निदा खान आला हजरत खानदान की बहू हैं। निदा खान का निकाह 16 जुलाई, 2015 को आला हजरत खानदान के उसमान रजा खां उर्फ अंजुम मियां के बेटे शीरान रजा खां से हुआ था। अंजुम मियां आल इंडिया इत्तेहादे मिल्लत काउंसिल के मुखिया मौलाना तौकीर रजा खां के सगे भाई हैं। रजा खां ने 5 फरवरी, 2016 को तीन तलाक देकर निदा को घर से बाहर निकाल दिया था।