उन्नाव केस / कुलदीप सेंगर से पूछताछ करने सीतापुर जेल पहुंची सीबीआई, पीड़िता के परिजनों से भी ली जानकारी



पीड़िता के गांव पहुंची सीबीआई की टीम। पीड़िता के गांव पहुंची सीबीआई की टीम।
कड़ी सुरक्षा में दोनों को अदालत में पेश किया गया। कड़ी सुरक्षा में दोनों को अदालत में पेश किया गया।
आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर। आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर।
X
पीड़िता के गांव पहुंची सीबीआई की टीम।पीड़िता के गांव पहुंची सीबीआई की टीम।
कड़ी सुरक्षा में दोनों को अदालत में पेश किया गया।कड़ी सुरक्षा में दोनों को अदालत में पेश किया गया।
आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर।आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर।

  • सीबीआई की टीम ने शुक्रवार को दूसरी बार किया था मौके का मुआयना
  • रायबरेली में 28 जुलाई को हुए एक्सीडेंट में घायल हुई थी दुष्कर्म पीड़िता 
  • इस हादसे में पीड़िता की चाचाी और मौसी की हो गई थी मौत
  • कोर्ट ने ट्रक ड्राइवर और क्लीनर की 3 दिन की रिमांड मंजूर की

Dainik Bhaskar

Aug 03, 2019, 05:15 PM IST

लखनऊ. उन्‍नाव दुष्कर्म पीड़‍िता के साथ हुए एक्‍सीडेंट मामले की जांच कर रही सीबीआई टीम आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से पूछताछ करने सीतापुर कारागार पहुंची है। सीबीआई टीम में चार अफसर मौजूद रहे। इसके पहले सीबीआई की एक टीम पीड़िता के परिजनों का बयान लेने उन्नाव स्थित उनके घर पहुंची।

 

सीतापुर जेल पहुंची सीबीआई

सीतापुर जेल में सीबीआइ टीम के पहुंचने से वहां पर खलबली मच गई। सीतापुर जेल में उन्नाव में नाबालिग से दुष्कर्म का आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर बंद है। सीबीआई की टीम सीतापुर जेल में करीब दो बजे पहुंची। माना जा रहा है कि टीम यहां पर विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से पूछताछ करेगी। लखनऊ से सीतापुर पहुंची टीम में चार अफसर हैं। जेल प्रांगण में प्रवेश से पहले सीबीआइ के इंस्पेक्टर ने अपना परिचय दिया। इसके बाद चारों अधिकारी जेल के अंदर दाखिल हो गए।

 

सीबीआई टीम ने ट्रॉमा सेंटर पहुंचकर परिजनों से की पूछताछ

टीम ने आज किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रामा सेंटर में पीडि़ता के परिवार के लोगों से पूछताछ की। सीबीआई की एक महिला अधिकारी भी दुष्कर्म पीड़िता की तबियत के बारे में जानकारी लेने सीसीयू वार्ड में भी गई। यहां पर भी पड़ताल की गई। उन्नाव गैंगरेप पीडि़ता के जानलेवा एक्सीडेंट की गुत्थी सुलझाने के लिए केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) की टीम लखनऊ के ट्रामा सेंटर पहुंची। जहां पीडि़त और उसके वकील भर्ती है। सीबीआई की टीम पीडि़त परिवार वालों से भी मिली। सीबीआइ लखनऊ की ज्वाइंट डायरेक्टर संपत मीणा ने आज ट्रामा सेंटर में डॉक्टरों से भी तबीयत के बारे में पूछताछ की।

 

ट्रक ड्राइवर और क्लीनर तीन दिन की रिमांड पर

इससे पहले आरोपी ट्रक ड्राइवर और क्लीनर को 3 दिन की रिमांड पर भेजा गया है। सीबीआई कोर्ट ने आरोपियों की 3 दिन की रिमांड कस्‍टडी दी है। जांच एजेंसी अब ड्राइवर और क्लीनर से पूछताछ करेगी और घटनास्थल का मुआयना भी करा सकती है। 

 

बुधवार को सीबीआई टीम ने किया था घटनास्थल का दौरा

इससे पहले बुधवार को भी सीबीआई ने घटनास्थल का मुआयना किया था। मामले में मंगलवार को सीबीआई ने विधायक कुलदीप सेंगर और उसके भाई समेत 10 लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। यह मुकदमा सीबीआई ने दुष्कर्म पीड़िता के चाचा की तहरीर के आधार पर किया था। हादसे के बाद जेल में बंद पीड़िता के चाचा ने विधायक समेत अन्य के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था।

 

हादसे में घायल पीड़िता की हालत अभी भी नाजुक 
दुष्कर्म पीड़िता का परिवार रायबरेली जाते वक्त 28 जुलाई को हादसे का शिकार हो गया था। इसमें पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो गई थी। जबकि पीड़िता और उसके वकील की हालत गंभीर है। सुप्रीम कोर्ट ने इस पूरे मामले से जुड़े सभी केसों को दिल्ली ट्रांसफर करने के निर्देश दिए हैं। हादसे का केस जांच पूरी होने के बाद ट्रांसफर किया जाएगा। कोर्ट ने पीड़िता के परिवार को सुरक्षा मुहैया कराए जाने के निर्देश भी दिए थे। 

 

2017 में हुआ था पीड़िता के साथ दुष्कर्म

पीड़िता से 2017 में सामूहिक दुष्कर्म हुआ था। आरोप है कि विधायक कुलदीप सेंगर और अन्य ने नौकरी दिलाने के बहाने लड़की से दुष्कर्म किया। पीड़िता उस वक्त नाबालिग थी। बाद में पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई। आरोप है कि उसके पिता से विधायक ने ही मारपीट की थी। पिता की मौत के बाद पीड़िता ने लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह की कोशिश की थी। इसके बाद एसआईटी को जांच सौंपी गई थी। अभी जांच सीबीआई के पास है। बुधवार को भाजपा ने विधायक सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर दिया। सेंगर अभी सीतापुर की जेल में है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना