उन्नाव रेप केस / रायबरेली सड़क हादसे में सीबीआई ने चार्जशीट दायर की, विधायक सेंगर पर हत्या का केस नहीं



उन्नाव दुष्कर्म मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर। उन्नाव दुष्कर्म मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर।
X
उन्नाव दुष्कर्म मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर।उन्नाव दुष्कर्म मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर।

  • पीड़िता ने कुलदीप सेंगर पर लगाया था दुष्कर्म का आरोप
  • सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस को लिखा था पत्र

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2019, 03:18 PM IST

लखनऊ. रायबरेली सड़क हादसे में सीबीआई की ओर से दाखिल की गई चार्जशीट में उन्नाव दुष्कर्म मामले के आरोपी पूर्व भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर हत्या की धारा नहीं लगाई गई है। विधायक के खिलाफ आपराधिक षड़यंत्र और डराने धमकाने का आरोप है। सीबीआई ने लखनऊ स्थित स्पेशल सीबीआई कोर्ट में चार्जशीट दायर की है। इसमें ट्रक ड्राइवर आशीष कुमार पाल के खिलाफ गैरइरादतन हत्या, रैश ड्राइविंग और दूसरों के जान को खतरे में डालने की धाराओं के तहत आरोपित किया गया है।

 

25 सितंबर को चार्जशीट दायर करने के लिए सीबीआई को दो हफ्तों की मोहलत दी थी। उन्नाव रेप पीड़िता की कार में एक ट्रक ने उस वक्त टक्कर मार दी थी जब वो रायबरेली जिला जेल में अपने चाचा से मिलने जा रही थी। घटना में कार में उसके दो रिश्तेदारों की मौत हो गई थी, जबकि वकील और पीड़िता गंभीर रूप से घायल हो गए थे। 

 

पीड़िता ने कुलदीप सेंगर पर लगाया था दुष्कर्म का आरोप
पीड़िता के मुताबिक 2010 में भाजपा विधायक रहे कुलदीप सेंगर से उसके साथ दुष्कर्म किया था और उस समय वो नाबालिग थी। सुप्रीम कोर्ट ने इस विषय पर स्वत: संज्ञान लेते हुए यूपी पुलिस को फटकार लगाई थी और पूरे मामले को समयबद्ध सीमा में खत्म करने के साथ ही केस को दिल्ली ट्रांसफर कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पीड़िता को दिल्ली के एम्स ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया था।

 

पीडिता ने सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस को लिखा था पत्र
पीड़िता ने सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस को एक चिट्ठी लिखी थी, जिसमें जान के खतरे का अंदेशा जताया गया था। सुप्रीम कोर्ट की रजिस्ट्री ने उस खत को चीफ जस्टिस के सामने पेश नहीं किया था। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को जब इसकी जानकारी लगी तो वो बहुत नाराज हुए और कहा कि वो इस संबंध में जवाब तलब करेंगे। इस मामले में अदालत ने यूपी पुलिस और सरकार दोनों पर सवाल दागे। इसके साथ ही कहा कि उन्नाव गैंग रेप केस की निष्पक्ष जांच के लिए मामले को यूपी के बाहर ट्रांसफर कर दिया।

 

28 जुलाई को हुआ था हादसा

रायबरेली के थाना गुरुबख्शगंज के अंतर्गत कार ट्रक भिड़ंत को सीबीआई ने सड़क हादसा बताया है। इस हादसे में रेप पीड़िता और उसके वकील को गंभीर चोट आई थी, जबकि इस दुर्घटना में पीड़िता के एक परिजन की मौत हो गई थी। जेल में बंद अपने चाचा से मिलने जा रही दुष्कर्म पीड़िता की कार को एक ट्रक ने टक्कर मार दी थी। हादसे के बाद पीड़िता के परिजनों ने इसे हादसे के पीछे कुलदीप सिंह सेंगर का हाथ लगाते हुए हत्या और हत्या के प्रयास का आरोप लगाया था। विदित हो कि पीड़िता को उपचार के लिए गंभीर हालत में एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पीड़िता को 25 सितंबर को अस्पताल से छुट्टी मिली थी।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना