--Advertisement--

फर्जी कागज़ात पर सेना में भर्ती कराने का मामला,सीबीआई ने हवलदार समेत 40 लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR

जिन जिलों के लिए भर्ती रैली का आयोजन हुआ था। उसमें केवल उसी जिले में रहने वाले अभ्यर्थी ही शामिल हो सकते थे।

Dainik Bhaskar

May 10, 2018, 12:07 AM IST
हमीरपुर जिले के एसडीएम कार्या हमीरपुर जिले के एसडीएम कार्या

लखनऊ. सेना में फर्जी दस्तावेजों के आधार पर साल 2016 में 34 लोगों की भर्ती कराने के आरोप में एक हवलदार समेत 40 लोगों के खिलाफ सीबीआई ने मामला दर्ज किया है। उक्त जानकारी देते हुए सीबीआइआई के प्रवक्ता ने बताया कि,नियमों के अनुसार जिन जिलों के लिए भर्ती रैली का आयोजन हुआ था। उसमें केवल उसी जिले में रहने वाले अभ्यर्थी ही शामिल हो सकते थे। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से सेना की भर्ती के लिए लखनऊ मुख्यालय है।

हमीरपुर जिले से जारी हुए फर्जी मूल निवास प्रमाण पत्र
-जांच में यह सामने आया हैं कि, इन अभ्यर्थियों ने बुंदेलखंड क्षेत्र के हमीरपुर जिले के एसडीएम कार्यालय से जारी फर्जी मूल निवास प्रमाणपत्रों के आधार पर 2016-17 के दौरान लखनऊ में भर्ती अभियान में हिस्सा लिया।
-सीबीआई की एफआईआर के अनुसार ये लोग सेना में तकनीकि ड्यूटी, सामान्य ड्यूटी, संतरी ड्यूटी, लिपिक ड्यूटी और चिकित्सा ड्यूटी के लिए सैनिक के पद पर चयनित हो गए थे।

34 लोगों की भर्ती का मामला
-इसमें कहा गया कि इन 34 उम्मीदवारों में से ज्यादातर संबंधित स्थलों पर सेना के प्रशिक्षण में शामिल हो गए. भर्ती रैली औरैया, बाराबंकी, कन्नौज, गोंडा, बांदा, हमीरपुर और फतेहपुर जिलों के लिए अगस्त 2016 में की गई थी।
- संदेह होने पर भर्ती निदेशक कर्नल दीपक शर्मा ने हमीरपुर एसडीएम कार्यालय को मूल निवास प्रमाणपत्रों की जांच के लिए पत्र भेजा. जांच में ये प्रमाणपत्र फर्जी पाए गए।
-सीबीआई ने 34 अभ्यर्थियों, भर्ती जोन मुख्यालय लखनऊ के एक हवलदार सहित 40 लोगों के खिलाफ आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी, फर्जीवाड़े के आरोप और भ्रष्टाचार निवारण कानून के तहत मामला दर्ज किया है।

X
हमीरपुर जिले के एसडीएम कार्याहमीरपुर जिले के एसडीएम कार्या
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..