लखनऊ / योगी ने लेखपालों को बांटा लैपटॉप, कहा- तकनीक की मदद से संगठित अपराध पर लग सकती है लगाम



X

  • बोले- जल्द ही सभी लेखपालों को दिया जाएगा लैपटॉप
  • समयबद्ध तरीके से पूरा होगा लेखपालों का प्रशिक्षण 

Dainik Bhaskar

Jun 19, 2019, 03:50 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था भी बनाए रखने के लिए तकनीक का इस्तेमाल बहुत जरूरी होता है। इसकी मदद से संगठित अपराध पर लगाम लगाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि आमजन से जुड़ी छोटी छोटी समस्याओं को सुलझा लेते हैं तो विश्वास प्रगाढ़ होता है। छोटे छोटे विवाद जब आगे बढ़ते हैं तो बहुत बड़ी हिंसा, दंगे और उपद्रव होते हैं। इससे शासन की छवि भी प्रभावित होती है। इन समस्याओं के मूल में राजस्व का विवाद ही होता है।

 

यहां आयोजित एक कार्यक्रम में सीएम ने पहले चरण में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत प्रदेश के सभी लेखपालों को स्मार्टफोन वितरित किए। प्रदेश के सभी लेखपालों को लैपटॉप वितरण में आमजन के लिए शासन की मंशा को आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं। बहुत बड़ा कार्य है राजस्व लेखपालों का ,सरकार कानून व्यवस्था में संगठित अपराध पर अंकुश लगा सकती है। लेकिन आपसी रंजिश और राजस्व से जुड़े मामलों ने वक नई समस्या खड़ी की है इसका समाधान तकनीक हो सकता है इसका समाधान तकनीक हो सकता है। 

 

सभी लेखपालों को दिया जाएगा लैपटाप
उन्होंने कहा कि जल्द ही प्रदेश भर में सभी लेखपालों को लैपटॉप दिया जाएगा उनका प्रशिक्षण होगा। आमजन की समस्या का अगर समय पर समाधान नहीं होता है तो विश्वास का संकट खड़ा हो जाता है। राजस्व विभाग में 2 सालों में अनेक कार्य हुए हैं आय ,जाति ,निवास प्रमाणपत्र को ऑनलाइन किया गया है। खसरा और सजरा पर भी ऑनलाइन करने को लेकर कार्यवाही चल रही है।

 

समयबद्ध तरीके से पूरा होगा प्रशिक्षण
सीएम ने कहा कि प्रशिक्षण की कार्यवाही एक समयबद्ध माध्यम से पूरा करवाने का निर्देश दिया गया है। प्रदेश की कानून व्यवस्था भी बनाए रखने के लिए आमजन से जुड़ी छोटी छोटी समस्याओं को सुलझा लेते हैं तो विश्वास प्रगाढ़ होता है। 

छोटे छोटे विवाद जब आगे बढ़ते हैं तो बहुत बड़ी हिंसा,दंगे और उपद्रव होते हैं। इससे शासन की छवि भी प्रभावित होती है। इन समस्याओं के मूल में राजस्व का विवाद रहा है। 

 

भूलेख पोर्टल को मिले पांच करोड़ से ज्यादा हिट्स
राजस्व परिषद के अध्यक्ष प्रवीर कुमार ने कहा कि 13 फरवरी को 1 दिन में हमारे भूलेख पोर्टल को 5 करोड़ 43 लाख हिट्स मिले थें। प्रदेश के सभी लेखपालों को जल्द ही लैपटॉप मिलेगा। लेखपालों की ट्रेनिंग भी कराया जाएगा।  सभी प्रक्रियाओं को ऑनलाइन कर दिया गया है और खतौनी भी डिजिटाइज्ड है। जितने भी हमारे 7 करोड़ 65 लाख गाटे हैं, उनको डिजिटल कोड दिया गया है। कोई भी इन्फॉर्मेशन उससे निकाली जा सकती है, कितने तालाब ,चारागाह ,प्लॉट्स हैं उसकी जानकारी ली जा सकती है।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना