हाथ जोड़े और मिन्नतें करते रहे बंधक बने कर्मचारी..... लेकिन गुस्साए किसानों ने नहीं किया रिहा / हाथ जोड़े और मिन्नतें करते रहे बंधक बने कर्मचारी..... लेकिन गुस्साए किसानों ने नहीं किया रिहा

Daainikbhaskar.com

Dec 08, 2018, 01:39 PM IST

किसान पिछला बकाया पैसा नहीं मिलने से हैं नाराज, मिल अधिकारियों ने मानने से किया इनकार

In Muzaffarnagar, Farmers have made mortgages to sugar mill employees, they are troubled by not getting money

मुजफ्फरनगर (उत्तर प्रदेश)। शुक्रवार को गुस्साए किसानों ने शुगर मिल के कर्मचारियों को बंधक बना लिया। गन्ना पर्ची और पिछले साल का बकाया पैसा न मिलने से नाराज किसानों ने जमकर प्रदर्शन किया। बस में फंसे मिल कर्मचारी रिहा करने की मिन्नतें करते रहे। मौके पर पहुंचे एसडीएम, जिला गन्ना अधिकारी व मिल अधिकारियों ने किसानों को समझाया तब जाकर कर्मियों को छोड़ा गया।

घर का खर्च चलाना हुआ मुश्किल

एक किसान ने अपनी परेशानी बताते हुए कहा कि गन्ने की पर्ची नहीं मिल रही है, खेतों में लगा हुआ गन्ना भी सूख रहा है। मिल की ओर से पिछले साल का बकाया पैसा भी नहीं चुकाया गया है। घर का खर्चा चलना मुश्किल हो गया है। तो वहीं दूसरे किसान ने बताया कि खेत खाली नहीं हो पा रहे हैं, और गेहूं की बोआई भी करनी है। मिल पर किसानों का लाखों रुपया बकाया है जबकि मिल अधिकारियों का कहना है कि किसानों का कोई बकाया पैसा नहीं है। मजबूरी में किसानों को अपना गन्ना कोल्हू पर बेचना पड़ रहा है।

बस रोकी, बंधक नहीं बनाया

इस पूरे मामले पर एसडीएम धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि इस साल शुगर मिल थोड़ी देर से शुरू हुई, जिससे किसानों को समस्या हो रही है। किसानों की समस्या का जल्द समाधान किया जाएगा। तो वहीं जिला गन्ना अधिकारी डॉ. आरबी द्विवेदी ने बताया कि किसानों ने बस रोकी थी, किसी को बंधक नहीं बनाया था।

X
In Muzaffarnagar, Farmers have made mortgages to sugar mill employees, they are troubled by not getting money
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543