--Advertisement--

लखनऊ / किसान नेता से 50 लाख रुपए की रंगदारी मांगने के आरोप में पूर्व सांसद धनंजय सिंह पर केस दर्ज



पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू की है। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू की है।
X
पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू की है।पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू की है।

  • जानकीपुरम थाने में दर्ज हुआ केस
  • भाकियू के धरना प्रदर्शन पर हरकत में आई राजधानी की पुलिस

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2018, 07:12 PM IST

लखनऊ. राजधानी के जानकीपुरम थाने में शनिवार को पूर्व सांसद धनंजय सिंह के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। उन पर भारतीय किसान यूनियन के नेता से 50 लाख रुपए रंगदारी मांगने का आरोप है। एक माह पहले हुए इस मामले में नेता ने पुलिस से शिकायत की थी, लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया गया। इससे नाराज भाकियू पदाधिकारियों ने शनिवार को शहीद स्मारक पर प्रदर्शन शुरू कर दिया। प्रदर्शन की जानकारी होते ही हरकत में आई पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 
 

यह है पूरा मामला-

जानकीपुरम् सेक्टर-आई निवासी राजा राम गुप्ता उर्फ राजू गुप्ता भारतीय किसान यूनियन (अवध गुट) के संस्थापक व अध्यक्ष हैं। राजू गुप्ता ने बताया कि बीते कई सालों से गरीबों के हक में आवाज बुलंद करने के कारण कई भू-माफिया और उनके गुर्गों पर कार्रवाई की तलवार लटक चुकी है। पूर्ववर्ती सरकार में तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों ने माफियाओं के गुर्गों से मिलकर करोड़ों रुपए की जमीनों कब्जा कर लिया है। उन अवैध कब्जों को संगठन ने धरना-प्रदर्शन करके खाली करा दिया है। इससे भू-माफिया बौखलाए हुए हैं। 

 

कार्यालय पर गुर्गे पहुंचकर से सांसद से फोन पर कराई बात 

 

भाकियू नेता राजू गुप्ता ने बताया कि बीते 12 अक्टूबर को टेढ़ी पुलिया मछली मंडी स्थित उनके कार्यालय पर करीब 20 लोग गाड़ियों से आए। बताया कि वह सभी पूर्व सांसद धनंजय सिंह के आदमी हैं। तुम्हारे संगठन के द्वारा किए गए प्रदर्शन से धनंजय सिंह के लोगों को काफी नुकसान हुआ है। जिसकी भरपाई करना होगा। यह बात कह कर उन लोगों ने अपने फोन से धनंजय सिंह से बात कराई और चले गए। राजू गुप्ता के मुताबिक उनके कार्यालय पर आकर धमकाने की जानकारी थाने पर दी गई। लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नही की।

 

फोन से लगातार माफिया देने लगा धमकी 

 

राजू गुप्ता ने बताया कि वह पूर्व सांसद धनंजय सिंह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने की सोच ही रहे थे, तभी बीते 13,18 और 19 अक्टूबर को मोबाइल नंबर 8918026969 से उनके फोन पर धमकियां आने लगी। पूर्व सांसद धन्यजय सिंह ने फोन पर कहा कि तुम मुझे जानते नहीं हो, मैं जेल के अंदर मुन्ना बजरंगी का मर्डर करा सकता हूं, तो तुम्हारी क्या औकात है। तू तो मात्र किसानों की नेतागिरी करता है। तुम्हारे द्वारा मेरे लोगों का 50 लाख रुपयों का नुकसान हुआ है। उसको भेज दो। इतना ही नही 19 अक्टूबर को आए फोन पर धनंजय सिंह ने कहा, कि जो शिकायतें की हैं, उनको लिखित रूप में वापस ले लो और मेरे बताए हुए स्थान पर 50 लाख रुपए भेज दो।

धरना-प्रदर्शन के बाद लिखी गई रिपोर्ट

 

फोन पर धमकाने व 50 लाख रुपए की रंगदारी मांगने की शिकायत थाना जानकीपुरम्, एसएसपी, डीजीपी, गृहमंत्रालय और मुख्यमंत्री से की गई। फिर भी कोई कार्रवाई नही हो रही थी। शनिवार को सैकड़ों किसान शहीद स्मारक पहुंच कर धरना-प्रदर्शन करने लगे। मौके पर पहुंचे एसपीटीजी हरेंद्र कुमार के आदेश पर जानकीपुरम थाने में धनंजय सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया और उन्होंने सुरक्षा मुहैया कराने का वादा किया है। 

 

क्या बोले पुलिस अधिकारी

 

इंस्पेक्टर जानकीपुरम राज कुमार ने बताया कि राजू गुप्ता की तहरीर पर पूर्व सांसद धनंजय सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..