हरदोई / ट्रेन से कटकर चार रेलकर्मियों की मौत, पांचवां लापता, पटरी मरम्मत का काम कर रहे लोग

Dainik Bhaskar

Nov 05, 2018, 02:47 PM IST



घटनास्थल पर जांच करती पुलिस और जुटी भीड़ घटनास्थल पर जांच करती पुलिस और जुटी भीड़
X
घटनास्थल पर जांच करती पुलिस और जुटी भीड़घटनास्थल पर जांच करती पुलिस और जुटी भीड़

  • संडीला और उमरताली के बीच अप लाइन पर हुआ हादसा
  • अकाल तख्त ट्रेन से कटकर हुई कर्मियों की मौत

हरदोई. लखनऊ-दिल्ली रेल प्रखंड पर संडीला रेलवे स्टेशन के पास कोलकाता अमृतसर अकाल तख्त ट्रेन की चपेट में आकर चार रेलकर्मियों की कटकर मौत हो गई। रेलकर्मी (गैंगमैन) पटरियों की मरम्मत कर रहे थे। बताया जाता है कि, डाउन ट्रैक से भी ट्रेन आ रही थी। जिसके कारण अप लाइन पर आ रही अकाल तख्त एक्सप्रेस की आवाज कर्मियों को सुनाई नहीं दी। पीड़ित परिवारों में कोहराम मच गया है। घटना से आक्रोशित लोग डीआरएम को बुलाने की मांग कर रहे हैं। रेल प्रशासन ने घटना के जांच दिए हैं। रेलवे प्रशासन ने इस मामले में मुख्य रेल पथ निरीक्षक राम सजीवन को निलंबित कर दिया है।

 

हरदोई जिले में संडीला और उमरताली रेलवे स्टेशन के बीच अप लाइन पर पोल 1125/13 और 11 के बीच सोमवार की सुबह रेलवे ट्रैक के मरम्मत का कार्य चल रहा था। तभी अचानक अप लाइन पर कोलकाता-अमृतसर अकाल तख्त एक्सप्रेस ट्रेन आ गई। जिससे काम कर रहे लोहार रामस्वरूप (59) निवासी ग्राम महसोना थाना सण्डीला, और ट्रैक मैन कौशलेंद्र सिंह (30) निवासी ग्राम बरहट थाना माधौगंज, राजेंद्र (40) पुत्र प्रभु दयाल निवासी ग्राम भटौली थाना कासिमपुर व राजेश (25) पुत्र दयाराम निवासी भिटौली थाना संडीला, चपेट में आ गए। ट्रेन सभी को काटते हुए आगे निकल गई। हादसा इतना भीषण था कि, 500 मीटर आगे तक मृतकों के शव घिसटते चले गए और अकाल तख्त एक्सप्रेस बिना रुके निकल गई।

 

दुर्घटना की सूचना पाकर मौके पर काम कर रहे मजदूरों के अलावा काफी भीड़ जमा हो गई। परिजन और रेलकर्मी डीआरएम को बुलाने की मांग कर रहे हैं। पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं। रेलवे ने इस हादसे की जांच के आदेश दिए हैं।प्रथम दृष्ट्या ट्रेन के ड्राइवर व सिग्नल मैन की लापरवाही सामने आई है। 

 

डीआरएम ने मृतकों के परिजनों के लिए 25-25 लाख के मुआवजे समेत नौकरी का एलान किया है। साथ ही अंतिम संस्कार के लिए 10-10 हजार रुपए की तत्काल सहायता दी है। वहीं संडीला एसडीएम ने 5-5 लाख रुपए सीएम राहत कोष से दिलाने का किया वादा किया है।

COMMENT