--Advertisement--

उत्तरप्रदेश के 17 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, दो दिन में हादसों में 26 की जान गई

बारिश से जुड़े हादसों में रविवार को 16 लोगों की मौत हुई

Dainik Bhaskar

Sep 03, 2018, 02:42 PM IST

लखनऊ. उत्तरप्रदेश में बारिश से जुड़े हादसों में सोमवार को दस लोगों की मौत हुई। बारिश के चलते सात जिलों में बाढ़ के हालात हैं। मौसम विभाग ने 24 घंटों में प्रदेश के 17 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। राहत आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि बारिश और बिजली गिरने से दो दिन में 26 लोगों की मौत हो चुकी है। 580 से ज्यादा घरों को नुकसान पहुंचा। रविवार को ललितपुर और झांसी में बेतवा नदी की बाढ़ में फंसे 14 लोगों को सेना की मदद से एयरलिफ्ट किया गया।

गंगा, सरयू और शारदा समेत कई नदियों में उफान के चलते गोंडा, बहराइच, बाराबंकी, शाहजहांपुर, लखीमपुर खीरी, मुजफ्फरनगर और इलाहाबाद के कई गांव बाढ़ में घिरे हुए हैं।

इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट : बरेली, मेरठ, इटावा, कानपुर देहात, मुजफ्फरनगर, बागपत, लखनऊ, इलाहाबाद, सुल्तानपुर, फैजाबाद, गोरखपुर, बस्ती, संत कबीरनगर, बाराबंकी, गाजीपुर, बलिया और बनारस।

48 घंटों में कहां कितनी मौतें

जिला मौतें
शाहजहांपुर 6
फिरोजाबाद 1
झांसी 4
सीतापुर 3
अमेठी 2
औरैया 3
लखीमपुर खीरी 1
रायबरेली 2
इटावा 2
शामली 1
उन्नाव 1

कैम्पटी फॉल में फंसे सैलानी निकाले गए : उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में कई दिनों से बारिश हो रही है। इसके चलते ज्यादातर नदियों और झरनों का जलस्तर बढ़ा हुआ है। रविवार को मसूरी में 40 फीट ऊंचे कैम्पटी फॉल में बहाव तेज होने से करीब 200 सैलानी फंस गए, जिन्हें पुलिस की मदद से सुरक्षित निकाला गया। 27 जुलाई को भारी बारिश के बाद कैम्पटी फॉल को बंद किया गया था।

रविवार को बेतवा की बाढ़ में फंसे 14 लोगों को सेना ने बचाया। रविवार को बेतवा की बाढ़ में फंसे 14 लोगों को सेना ने बचाया।
दो दिन से उत्तप्रदेश में भारी जारी है। दो दिन से उत्तप्रदेश में भारी जारी है।
X
रविवार को बेतवा की बाढ़ में फंसे 14 लोगों को सेना ने बचाया।रविवार को बेतवा की बाढ़ में फंसे 14 लोगों को सेना ने बचाया।
दो दिन से उत्तप्रदेश में भारी जारी है।दो दिन से उत्तप्रदेश में भारी जारी है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended