--Advertisement--

'जानेमन तुम वहीं आ जाना...पर छिप-छिप कर आना' कविता के जरिए चर्चित IAS बी. चंद्रकला ने CBI छापे पर रखी अपनी बात

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 07:05 PM IST

लखनऊ न्यूज: तब सोशल मीडिया पर ऐसे रखी थी अपने दिल की बात

lucknow news: IAS B Chandrakala wrote a poem after CBI raid in illegal mining case

लखनऊ. अवैध खनन मामले में CBI की राडार पर आईं आईएएस बी. चंद्रकला (IAS B. Chandrakala) ने एक बार फिर कविता के जरिए अपनी दिल की बात रखी है। उन्होंने लिंक्डइन अकाउंट पर खुद की रची कविता शेयर करते हुए लिखा है, 'नफरत और घृणा से जीवन दूषित होता है।' लेडी 'सिंघम' नाम से फेमस चंद्रकला आखिर में लिखती हैं, छापा जांच की प्रक्रिया का एक हिस्सा मात्र है। इसी साल 5 जनवरी को सीबीआई ने लखनऊ स्थित उनके फ्लैट पर दो घंटे छापेमार कार्रवाई की थी। उन पर 2012 में हमीरपुर में डीएम रहते अवैध तरीके से पट्टे को मंजूरी देने के आरोप है। छापे के बाद से वे कहां हैं, इसकी कोई जानकारी नहीं है।

ये है बी. चंद्रकला की पूरी पोस्ट शब्दश:

प्रिय दोस्तों,

आईये, परमात्मा के दिये इस नये सवेरे में हम अपनी तरफ से प्रेम की सुगंध फैलाएं ।।- नफरत और घृणा से जीवन , दूषित होता है ।।
इन सुंदर पंक्तियों के साथ शुभारम्भ करते हैं ---

आ सोलह श्रृंगार करूँ , मैं ,
आ मैं तुमको , प्यार करूँ, मैं ।।

घर से निकल कर , सीधी सडक पर ,
चौवाडे से दायीं , मुड जाना ,
वह जो गंगा तट है , देखो ,
ऊपर एक मंदिर है , पुराना ।।

उसके पीछे पीपल का वृक्ष ,
जाने मन तुम , वहीं आ जाना ,
आना तुम छिप-छिप कर आना ,
आना , नजरें चार करेंगे ,
मधुवन का श्रृंगार बनेंगे ।।

जेट की रात है , बडी ही सुहानी ,
माहताब है , देख दिवानी ,
रातरानी, चम्पा , चमेली ,
फूल , तुम लाना संग में सहेली ।।

रजनीगन्धा को भी ले आना ,
दोस्त है ये अपना , बडा ही पुराना,
आना , जरा जल्दी आ जाना ।।

चंदा की बे-सब्री देखो ,
उग आयी है , रात की रानी ,
नदियों की धारा तुम , देखो ,
देखो इसका , कल-कल पानी ।।

कोयल की स्वर , देखो , हे प्रिये !
उर्वशी भी है , तेरी दिवानी ,
कुमकुम के रंगों से सज गयी ,
गौधूली की प्रीत पुरानी ।।

देखो , जब मंदिर में बजेगी ,
संध्या-भजन की घंटी , तब तुम ,
बीत जाए जब , एक पहर और ,
घर से निकल ही आना प्रिय तुम ।।

मै बैठा इंतजार करूंगा ,
पीपल के नीचे , चाँदनी रात में ,
मैं बन दर्पण , श्रृंगार करूँगा,
आना तुमको मैं प्यार करूँगा ।।

छापा ,जांच की प्रक्रिया का एक हिस्सा मात्र है ।।--आपकी चंद्रकला ।।


तब लिखा था- चुनावी छापा पड़ता रहेगा

इससे पहले बी. चंद्रकला ने लिंक्डइन अकाउंट पर ही कविता के जरिए अपने दिल की बात की थी। उन्होंने लिखा था- 'चुनावी छापा तो पड़ता रहेगा, लेकिन जीवन के रंग को क्यों फीका किया जाय, दोस्तों। आप सब से गुजारिश है कि मुसीबतें कैसी भी हों, जीवन की डोर को बेरंग ना छोड़ें।'

ये था मामला : 2012 के बाद IAS बी. चंद्रकला ने दिए थे खनन के पट्टे


- अखिलेश यादव की सरकार में IAS बी. चंद्रकला की पोस्टिंग पहली बार हमीरपुर जिले में डीएम के पद पर की गई थी। आरोप है कि इस दौरान चंद्रकला ने जुलाई 2012 के बाद हमीरपुर जिले में 60 मौरंग के खनन के पट्टे दिए थे। जबकि ई-टेंडर के जरिए मौरंग के पट्टों पर मंजूरी देने का प्रावधान था, जिसकी अनदेखी की गई थी।
- 2015 में मौरंग खनन के इन पट्टों को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई। हाईकोर्ट ने 16 अक्तूबर 2015 को पट्टे अवैध घोषित कर रद्द कर दिए थे। याचिका लगाने वाले विजय द्विवेदी ने हाईकोर्ट में कहा कि मौरंग खदानों पर रोक के बाद भी अवैध खनन किया गया। तब 28 जुलाई 2016 को सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने अवैध खनन की जांच सीबीआई को सौंप दी थी।
- सीबीआई ने इस मामले में 11 सरकारी और कई प्राइवेट लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। CBI ने शनिवार को चंद्रकला के आवास के अलावा सीबीआई ने लखनऊ, नोएडा, हमीरपुर, जालौन और कानपुर में बसपा और सपा नेताओं के घर पर भी छापे मारे।

कौन हैं IAS बी. चंद्रकला ? (Who is IAS B. Chandrakala)


- बी. चंद्रकला का जन्म तेलंगाना के करीमनगर जिले (Karimnagar District, Telangana) में हुआ था।
- रामागुंडम (Ramagundam) में सेंट्रल स्कूल से 12th करने के बाद उन्होंने हैदराबाद के कोटि वुमन्स कॉलेज से ग्रेजुएशन किया।
- बी. चंद्रकला ने शादी के बाद इकोनॉमिक्स में पीजी की डिग्री हासिल की। कहा जाता है कि पति ए रामुलू की इंस्पिरेशन और अपने टैलेंट के बूते चंद्रकला IAS अफसर बनीं। वह 2008 बैच की यूपी कैडर की IAS हैं। वे यूपी की सबसे संवेदनशील जिलों में से एक मेरठ, बुलंदशहर सहित कई जिलों में डीएम रह चुकी हैं।

X
lucknow news: IAS B Chandrakala wrote a poem after CBI raid in illegal mining case
Astrology

Recommended

Click to listen..