अमेठी / आयुष्मान कार्ड मामला: जांच के लिए पहुंची टीम, मृतक के परिजनों के बयान दर्ज किए



मृतक नन्हेलाल मिश्र के परिजन। मृतक नन्हेलाल मिश्र के परिजन।
X
मृतक नन्हेलाल मिश्र के परिजन।मृतक नन्हेलाल मिश्र के परिजन।

  • चुनाव के दौरान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने उठाया था यह मामला
  • राहुल गांधी और प्रियंका को ठहराया था मौत का जिम्मेदार

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 02:10 PM IST

अमेठी. यहां मतदान से एक दिन पहले आयुष्मान कार्ड धारक युवक की इलाज के अभाव में मौत के मामले ने काफी तूल पकड़ लिया था। इस मामले में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अमेठी से सांसद राहुल गांधी और कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी को युवक की मौत का जिम्मेदार ठहराया था। अब उसी मामले की जांच शुरू हो गई है। जांच टीम ने यहां पहुंचकर पीड़ित के परिजनों के बयान दर्ज किए।

 

मामले का संज्ञान लेते हुए सीएमओ आरएम श्रीवास्तव  और एसडीएम राम शंकर अमेठी की टीम ने मृतक के घर पहुंचकर परिजनों का बयान दर्ज कर जानकारी ली। मामले को लेकर अमेठी से भाजपा प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने 5 मई को ट्वीट करते हुए राहुल-प्रियंका को मौत का जिम्मेदार ठहराया था। उन्होंने जांच कर उचित कार्यवाही की मांग की थी। 

 

यह है मामला
अमेठी जिले के मुसाफिरखाना क्षेत्र के सरैया गांव के निवासी नन्हे लाल मिश्र पुत्र शोभनाथ मिश्र को पेट में दर्द होने के शिकायत के बाद परिजन उसे लेकर मुंशीगंज स्थित संजय गांधी अस्पताल पहुंचे थे। आरोप है कि वहां चिकित्सकों ने आयुष्मान कार्ड को स्वीकार न करते हुए नकद राशि जमा करने पर इलाज की बात कही थी। मृतक के परिजन जगन्नाथ मिश्र ने आरोप लगाया है कि पैसे न होने पर इलाज के अभाव में नन्हेलाल की मौत हो गई। शव को घर भेजने के लिए अस्पताल प्रशासन ने 800 रुपए भी जमा करवाए।

COMMENT