--Advertisement--

JEE एडवांस रिजल्ट : राजधानी टॉपर उत्कर्ष दोस्तों के साथ व्हाट्सएप ग्रुप पर करते सवाल सॉल्व, ये है सात अन्य सेलेक्ट हुए स्टूडेंट

Dainik Bhaskar

Jun 10, 2018, 05:18 PM IST

200 से अधिक छात्रों ने सफलता प्राप्त करके लखनऊ के सफल छात्रों की सूची में अपना नाम अंकित किया हैं।

लखनऊ से  सात बच्चों ने 1000 में रैंक हासिल किया हैं. लखनऊ से सात बच्चों ने 1000 में रैंक हासिल किया हैं.

लखनऊ. आईआईटी कानपुर ने रविवार को जेईई एडवांस्ड का रिजल्ट घोषित कर दिया। इस बार राजधानी के उत्कर्ष गुप्ता ने इस परीक्षा में अखिल भारतीय स्तर पर 431 रैंक हासिल किया है। वहीं जीडी गोयनका पब्लिक स्कूल के छात्र इशांक श्रीवास्तव ने 598 रैंक हासिल किया है। यूपी से सात बच्चों ने 1000 में रैंक हासिल किया हैं।


9th से तैयारी कर रहे थे उत्कर्ष
-उत्कर्ष बताते हैं वह क्लास 9th से ही तैयारी करने लगा था। जिसके बाद JEE के नोट्स सोल्व किया फिर मैंने एग्जाम दिया।
-उत्कर्ष ने बताया उसने अपने दोस्तों के साथ एक व्हाटसप ग्रुप बना रखा था जिसमे वह और उसके दोस्त अलग-अलग पैटर्न के सवाल भेजते थे जिसको सब सोल्व करते थे।
इस बार का फिजिक्स का पेपर सरल था। उत्कर्ष के पिता इलाहाबाद में ड्रग इंस्पेक्टर के पद पर तैनात है।
-उत्कर्ष को जेईई मेन्स में 260 अंकों के साथ 1073 रैंक मिली थी। सीएमएस गोमतीनगर से पढ़ाई करने वाले छात्र उत्कर्ष को 10वीं सीएमएस गोमती नगर से 94.8 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण किया था। पापा गोविंद लाल गुप्ता ड्रग इंस्पेक्टर हैं और मां वीना गुप्ता गृहणी हैं।

सिविल सेवा में जाने का मन है इशांक का
-जीडी गोयनका पब्लिक स्कूल के छात्र इशांक श्रीवास्तव ने 598 रैंक हासिल किया है। इशांक के पिता राजेश श्रीवास्तव एक निजी कम्पनी में प्रबंधक हैं।
-मां गीता श्रीवास्तव गृहणी हैं। इशांक ने अपने पहले प्रयास में यह सफलता हासिल की है।
-इशांक कहते हैं कि 10वीं तक वह सिविल सेवा परीक्षा में जाने का मन बना रहे थे। लेकिन, अब चार साल बीटेक करने के बाद दो साल मैनेजमेंट की पढ़ाई करनी है।


शहर के ये बच्चे रहे टॉपर
- उत्कर्ष गुप्ता ने इस परीक्षा में प्रथम स्थान 431 रैंक के साथ लखनऊ शहर के टाॅपर रहे। वहीं शहर में छात्राओं मुस्कान अग्रवाल 1730 रैंक के साथ लखनऊ शहर की टाॅपर रहीं। वहीं शहर में द्वितीय स्थान पर इशांक श्रीवास्तव 598 रैंक, चतुर्थ स्थान पर आयुष सिहं 1017 रैंक हैं।
-इसके आलावा पंचम स्थान पर अस्तित्व चौधरी के छठे स्थान शुभांग पांडे 1226 रैंक समेत कुल 200 से अधिक छात्रों ने सफलता प्राप्त करके लखनऊ के सफल छात्रों की सूची में अपना नाम अंकित किया हैं।

पापा- माँ के साथ उत्कर्ष गुप्ता . पापा- माँ के साथ उत्कर्ष गुप्ता .
X
लखनऊ से  सात बच्चों ने 1000 में रैंक हासिल किया हैं.लखनऊ से सात बच्चों ने 1000 में रैंक हासिल किया हैं.
पापा- माँ के साथ उत्कर्ष गुप्ता .पापा- माँ के साथ उत्कर्ष गुप्ता .
Astrology

Recommended

Click to listen..