Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Kalaam A Special Woman Group Then Hindi Language And Poetry

'कलाम' रचनात्मक महिलाओं का एक विशेष समूह है जो हिंदी और क्षेत्रीय साहित्य बढ़ावा देगी

ये ऐसा समूह है जो विषमता के लिए तत्पर रहता है और व्यक्तित्व तथा मानव व्यवहार के बारे में लिखने पर जोर देता है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - May 09, 2018, 08:38 PM IST

'कलाम' रचनात्मक महिलाओं का एक विशेष समूह है जो हिंदी और क्षेत्रीय साहित्य बढ़ावा देगी

लखनऊ. एक्सप्रेशंस सोसाइटी, हयात रीजेंसी, लखनऊ और एहसास के सहयोग से 'कलाम' श्रृंखला –जोकि लखनऊ की रचनात्मक महिलाओं का एक समूह हैं। जिसने अतिथि लेखक नीलिमा डालमिया अधर के भावुक 'लोक-निरीक्षक' के साथ पहला उद्घाटन सत्र आयोजित किया। ये ऐसा समूह है जो विषमता के लिए तत्पर रहता है और व्यक्तित्व तथा मानव व्यवहार के बारे में लिखने पर जोर देता है।


हिंदी और क्षेत्रीय साहित्य को बढ़ावा देने के लिए प्रमुख
-'कलाम' श्रृंखला भारत में मुख्य रूप से हिंदी और क्षेत्रीय साहित्य को बढ़ावा देने के लिए प्रमुख चुनिंदा व्यक्तियों के साथ लेखकों और कवियों के लिए एक विशेष मंच के रूप में प्रभा खैतान फाउंडेशन की पहल थी।
-प्रभा खेतान फाउंडेशन (पीकेएफ) कोलकाता से बाहर एक गैर सरकारी संगठन है जो पूरे भारत में विभिन्न सामाजिक और सांस्कृतिक गतिविधियों को आयोजित करने में लगा हुआ है।
-कलाम' श्रृंखला आगरा, अहमदाबाद, अजमेर, बंगलौर, भुवनेश्वर, चंडीगढ़, दिल्ली, हैदराबाद, जयपुर, कोलकता, लंदन, मुंबई, पटना, पुणे, रायपुर, रांची, उदयपुर और अब लखनऊ में आयोजित होने जा रहा है|
-भारत में 'कलाम' की शुरुआत करने वालीसामाजिक कार्यकर्ता सुनीप बुटोरिया का मस्तिष्क की उपज़ है,जो प्रभा खैतान फाउंडेशन की ट्रस्टी भी हैं.
-इसका मुख्य उद्देश्य 25 से 30 चयनित लोगों से जुड़ना है और उन्हें एक फ्री-व्हीलिंग चर्चाओं में अतिथि लेखक से बातचीत करने के लिए आमंत्रित करना है। इन सत्रों में कोई पुस्तक विमोचन या बिक्री गतिविधियां नहीं हैं। लेखक द्वारा हस्ताक्षरित किताबों की मानार्थ प्रतियां मेहमानों को दी जाती हैं।
हयात रीजेंसी में आयोजित समारोह में लखनऊ के कई प्रतिष्ठित व्यक्तित्वों को देखा गया, जिसमें शिक्षाविदों, लेखकों और व्यापारियों से लेकर नौकरशाहों तक सम्मिलित थे| लखनऊ एक्सप्रेशंस सोसाइटी की उपाध्यक्ष कनकरेखा चौहान जी ने नीलम डालमिया अधर के साथ एक दिलचस्प बात-चीत सत्र में भाग लिया।
कार्यक्रम में शामिल होने वालो में- उपमा चतुर्वेदी, पार्थ सरथी सेन शर्मा, किरण चोपड़ा, दीपक कबीर, रेणु भार्गव इत्यादि विशिष्ट लोग थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×