जया प्रदा को लेकर भरी सभा में आजम खान ने की गंदी बात, कहा- मैं 17 दिन में ही पहचान गया उनके &^%$#@ का रंग खाकी है!

उत्तर प्रदेश न्यूज- रामपुर में चुनावी सभा के दौरान सपा नेता ने की जया प्रदा पर अभद्र टिप्पणी, केस दर्ज।

dainikbhaskar.com

Apr 15, 2019, 11:29 AM IST
Uttar Pradesh Lok Sabha Elections 2019, Azam Khan's Controversial Statement, Jaya Prada and Dirty Politics

रामपुर, यूपी। सपा नेता आजम खान की एक टिप्पणी ने विवाद खड़ा कर दिया है। आजम खान ने उनके खिलाफ लोकसभा इलेक्शन लड़ रहीं BJP प्रत्याशी जया प्रदा पर अभद्र टिप्पणी की। हालांकि आजम ने जया प्रदा का टिप्पणी में कहीं नाम नहीं लिया। इस मामले में आजम खान के खिलाफ FIR दर्ज कराई गई है। वहीं आजम खान ने कहा कि उन्होंने जया प्रदा के खिलाफ कोई आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की है। अगर वे दोषी साबित होते हैं, तो उम्मीदवारी से अपना नाम वापस ले लेंगे। आजम को महिला आयोग ने भी नोटिस भेजा है।

-आपत्तिजनक टिप्पणी के मामले में सपा के पूर्व मंत्री आजम खान पर मजिस्ट्रेट की तहरीर पर शाहाबाद थाने में केस दर्ज किया है। आजम पर आदर्श आचार संहिता के उलंघन का नौवां मामला है। रविवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गठबंधन उम्मीदवार आजम खान के समर्थन में रामपुर के शाहाबाद में रैली की। अखिलेश के संबोधन के बाद जयाप्रदा पर निशाना साधते हुए आजम खान ने कहा था कि, जिसको हम ऊंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है।
-आजम खान ने सोमवार को अपने बयान पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि मैंने किसी का नाम नहीं लिया है। मैं जानता हूं कि मुझे क्या कहना चाहिए। अगर कोई साबित कर देता है कि मैंने कहीं, किसी का नाम लिया है, किसी का अपमान किया है, तो मैं चुनाव नहीं लडूंगा।
-आजम खान ने कहा कि मैं दिल्ली के एक व्यक्ति का जिक्र कर रहा था, जो अस्वस्थ है। जिसने कहा था, मैं 150 राइफलें लेकर आया था और अगर मैंने उस दिन आजम खान को देखा होता तो गोली मार देता। उसके बारे में बात करते हुए, मैंने कहा, लोगों को जानने में काफी समय लगा और बाद में पता चला कि उसने आरएसएस के शॉर्ट्स पहने थे।

-आजम के बयान पर जयाप्रदा ने कहा कि, मैं आजम खान को भाई समझती थी, लेकिन उन्होंने इस बार हदें पार कर दी है। आजम का चुनाव रद्द करना चाहिए। यदि वो जीत गए तो लोकतंत्र का क्या होगा? महिलाएं सुरक्षित नहीं रहेंगी। मैं डरने वाली नहीं हूं, मैं रामपुर छोड़ने वाली नहीं हूं। जनता इसका जवाब देगी। क्या आजम खान परिवार की महिलाओं के साथ भी ऐसा ही बयान देते हैं?
-आजम के बयान पर सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा-मुलायम भाई-आप पितामह हैं समाजवादी पार्टी के। आपके सामने रामपुर में द्रोपदी का चीरहरण हो रहा है। आप भीष्म की तरह मौन साधने की गलती मत करिए।

X
Uttar Pradesh Lok Sabha Elections 2019, Azam Khan's Controversial Statement, Jaya Prada and Dirty Politics
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना