लखनऊ / मेरठ एसपी के वायरल वीडियो ने पकड़ा तूल, मायावती ने की न्यायिक जांच की मांग

बसपा की अध्यक्ष मायावती (फाइल फोटो) बसपा की अध्यक्ष मायावती (फाइल फोटो)
X
बसपा की अध्यक्ष मायावती (फाइल फोटो)बसपा की अध्यक्ष मायावती (फाइल फोटो)

  • 20 दिसम्बर को मेरठ में हुई हिंसा के बाद वायरल हुआ एसपी का वीडियो
  • बसपा ने कहा- दोष सही साबित होने पर एसपी को बर्खास्त किया जाए

Dainik Bhaskar

Dec 29, 2019, 04:20 PM IST

लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूव्र मुख्यमंत्री मायावती ने मेरठ के एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह के शनिवार को वायरल हुए वीडियो को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए इसकी न्यायिक जांच कराने की मांग की है। मायावती ने यह भी कहा है कि जांच में दोषी पाए जाने पर एसपी को बर्खास्त किया जाए।

मायावती ने ट्वीट कर लिखा 'उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में वर्षों से रह रहे मुसलमान भारतीय है ना कि पाकिस्तानी यानि CAA/NRC के विरोध-प्रदर्शन के दौरान खासकर उत्तर प्रदेश के मेरठ SP सिटी द्वारा उनके प्रति साम्प्रदायिक भाषा/टिप्पणी करना अति निंदनीय और दुर्भाग्यपूर्ण है'।

'ऐसे सभी पुलिसकर्मियों की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच होनी चाहिए और दोषी होने के सही सबूत मिलने पर फिर उनको तुरंत नौकरी से बर्खास्त करना चाहिए। बीएसपी की यह मांग है'। 

यह है मामला

दरसअल वायरल हो रहा वीडियो 20 दिसंबर का है। उस समय उप्र के कई हिस्सों में नागरिकता कानून के विरोध में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। मेरठ के एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह पुलिस टीम के साथ पेट्रोलिंग कर रहे थे। वायरल वीडियो में वह कह रहे हैं, 'जो काली पट्टी और पीली पट्टी बांध रहे हो, बता रहा हूं. उनसे कह दो पाकिस्तान चले जाएं। फ्यूचर काला होने में लगेगा सेकेंड भर, एक सेकेंड में सब काला हो जाएगा। देश में नहीं रहने का मन है, चले जाओ भैया। खाओगे यहां, गाओगे कहीं और का।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना