Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Minister Laxmi Narayan Dismissed Dress Code In Madarsa

उप्र के मदरसों में ड्रेस कोड का प्रस्ताव नहीं: सीनियर मंत्री ने जूनियर के लिए कहा- बोलने से पहले पूछना था

राज्य मंत्री मोहसिन रजा ने कहा था कि मदरसों में बच्चे कुर्ता-पायजामा पहन कर आते हैं जो धर्म विशेष की पहचान है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jul 04, 2018, 06:28 PM IST

उप्र के मदरसों में ड्रेस कोड का प्रस्ताव नहीं: सीनियर मंत्री ने जूनियर के लिए कहा- बोलने से पहले पूछना था

- मोहसिन रजा ने मंगलवार को कहा था कि राज्य सरकार मदरसों में ड्रेस कोड लाने पर विचार कर रही है

- लक्ष्मी नारायण चौधरी ने बुधवार को कहा फिलहाल सरकार ऐसे किसी भी प्रस्ताव पर विचार नहीं कर रही है

लखनऊ.मदरसों में नए ड्रेस कोड को लेकर योगी सरकार के अल्पसंख्यक मामलों के दोनों मंत्री आमने-सामने आ गए हैं। कैबिनेट मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने बुधवार को राज्य मंत्री मोहसिन रजा के नए ड्रेस कोड पर विचार करने वाले बयान को निजी राय बताया। उन्होंने कहा, "मोहसिन को कोई भी बात कहने से पहले से मुझसे पूछ लेना चाहिए था।" इससे पहले मोहसिन रजा ने मंगलवार को कहा था कि राज्य सरकार मदरसों में ड्रेस कोड लाने पर विचार कर रही है।

चौधरी ने कहा, "किसी के खाने पर और कपड़े पहनने पर कोई पाबंदी नहीं होती। ड्रेस कोड अगर मदरसे लागू करें तो यह उनकी इच्छा है। फिलहाल सरकार ऐसे किसी भी प्रस्ताव पर विचार नहीं कर रही है।''

कुर्ता-पायजामा एक धर्म विशेष की पहचान-रजा

मोहसिन रजा ने मंगलवार को कहा था, "मदरसों में आमतौर पर बच्चे कुर्ता-पायजामा पहन कर आते हैं। इससे उनकी पहचान एक धर्म विशेष से होती है। उनमें हीन भावना आती है। इसे खत्म करना जरूरी है। सरकार चाहती है कि मदरसे के बच्चे भी मुख्यधारा से जुड़ें। वे सामान्य स्कूली बच्चों की तरह दिखें। इसलिए मदरसों में शर्ट-पैंट पहनने या नए ड्रेस कोड को लेकर विचार किया जा रहा है। जल्द इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।"

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×