--Advertisement--

विपक्ष के हंगामे के बीच 34 हजार करोड़ का अनुपूरक बजट पेश, सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित

सोमवार 11 बजे सत्र की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने देवरिया कांड पर नियम 311 के तहत चर्चा की मांग की।

Dainik Bhaskar

Aug 27, 2018, 01:45 PM IST
monsoon session of uttar pradesh legislature news and updates

लखनऊ. विधानसभा का मानसून सत्र हंगामे के साथ शुरू हुआ। सोमवार 11 बजे सत्र की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने देवरिया कांड पर नियम 311 के तहत चर्चा की मांग की। चर्चा न होने पर विपक्ष ने वेल में आकर हंगामा शुरू कर दिया। सपा और कांग्रेस के सदस्यों ने पोस्टर-बैनर के साथ विधानसभा में अपना विरोध दर्ज कराया। हंगामे के बीच ही योगी सरकार की तरफ से वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने 34833।24 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट पेश कर दिया। इसके साथ ही विधानसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गयी।

सीएम योगी ने कहा-मुट्ठी भर लोगों ने विधानसभा को बनाया बंधक: सीएम योगी ने कानून व्यवस्था पर जवाब देते हुए मीडिया से बातचीत में कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पिछले 15 सालों में सबसे बेहतर है। इसका प्रमाण है कि यहां इन्वेस्टर समिट होता है, शीघ्र ही 50 हजार करोड़ निवेश की शुरुआत हम और कर रहे हैं। बहुत दुखद स्थिति है कि सदन को चर्चा के लिए चुनने की बजाय अनावश्यक हो हल्ला का माध्यम बनाया जा रहा है। चंद मुट्ठी भर लोग विधानसभा को बंधक बना कर अन्य चुन कर आये विधायकों का हक मारने का प्रयास कर रहे। ये लोकतंत्र के लिए शुभ नही।

देवरिया कांड पर बोले सीएम: उन्होंने कहा कि देवरिया का जो मुद्दा उठाया गया, उसमे हमारी सरकार ने कार्यवाही की। 2009 में इसे मान्यता मिली थी तब केंद्र और राज्य में किसकी सरकार थी किसी से छिपा नहीं। जून 2017 में हमारी सरकार ने ऐसे सब संस्थान बंद करने और अनुदान समाप्त करने का प्रावधान किया था। हमारी सरकार ने सख्त कार्यवाही की। जिस अधिकारी ने कार्यवाही में थोड़ी भी शिथिलता बरती उस पर कार्यवाही की है। सीबीआई जांच की सिफारिश की। एसपी स्तर की 3 सदस्यीय महिला टीम मामले की निगरानी कर रही है। अपने नकारेपन को छिपाने के लिए विधानसभा में महत्वपूर्ण अनुदान मांगो और जनहित के मुद्दों पर चर्चा की बजाय विपक्ष ऐसे मुद्दे उठा रहा जो न्यायाधीन है। देवरिया के लिए कोई दोषी है तो ये सरकारें दोषी हैं जिन्होंने मान्यता दी थी और अनुदान दिया। इनके चेहरे को प्रदेश पहचानता है। उन्होंने कहा कि क्राइम रेट पिछली सरकार से कम है। पिछली सरकार में हत्या-बलात्कार की एफआईआर दर्ज नही होती थी। हमारी सरकार में हर एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए गए।

अटल के नाम पर बनेगा मेडिकल कॉलेज: सीएम योगी ने बताया कि सोमवार को सदन में 34 हजार करोड़ का अनुपूरक बजट पेश किया गया। जिसमे अटल जी के नाम पर मेडिकल कॉलेज की स्थापना, बलरामपुर में, केजीएमयू में सैटेलाइट सेंटर, डीएवी कॉलेज में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के लिए बजट दिया गया। डिफेंस कॉरिडोर के लिए अनुदान मांगो में घोषणा की गयी है। बहुत ऐसे क्षेत्र हैं जहां आर्सेनिक की वजह से पेयजल समस्या है। वहां पेयजल की व्यवस्था के लिए बजट की व्यवस्था की गयी है। ऋण माफी की अंतिम क़िस्त जारी की गयी है।

विपक्ष ने की सरकार बर्खास्तगी की मांग: नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने कहा कि देवरिया कांड शर्मनाक है। इस विषय पर चर्चा जरूरी है। उन्होंने कहा देवरिया कांड की जो तस्वीरें सामने आई है। उन्हें देख कर विधानसभा अध्यक्ष को भी शर्म आएगी। रामगोविंद चौधरी ने कहा कि देवरिया कांड की जांच सुप्रीम कोर्ट के जज से करानी चाहिए। वहीँ कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय सिंह उर्फ़ लल्लू ने कहा कि देवरिया कांड में कोई कार्यवायी नहीं हुई है। हम मांग करते है कि मुख्यमंत्री जी बताए की जब डेढ़ साल पहले ही उस संस्था को निरस्त कर दिया गया था तो अब तक संस्था कैसे चल रही थी। हम पूछना चाहते हैं कि देवरिया में अभी भी उसी संस्था के नाम पर विवाह का आयोजन किया गया और मुख्य अतिथि प्रदेश के मंत्री भी रहे। इस पर सरकार क्या कर रहा है। उन्होंने कहा सरकार इस मामले में चर्चा करने से भाग रही है। जबकि विधानपरिषद में सपा विधानमंडल दल के अध्यक्ष अहमद हसन ने कहा कि आज़ादी के 70 साल में यूपी की भाजपा सरकार सबसे खराब सरकार है। देवरिया मामले में सरकार मीडिया से झूठ बोल रही है। बच्चो को देवरिया से गोरखपुर भेजा गया, सीबीआई के पास केस होता तो भाजपा की कलई खुल जाती। इस मामले में अभी तक कोई पकड़ा नही गया। जब से योगी सरकार आई है। यूपी में कानून व्यवस्था नही है। अहमद हसन ने बीजेपी सरकार की बर्खास्तगी की मांग की।

X
monsoon session of uttar pradesh legislature news and updates
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..