--Advertisement--

खुश रहे बिटिया..पिता ने शादी में लुटाए 40लाख, फिर मायके आई उसकी लाश

प्रेग्नेंसी में भी पति सास-ससुर संग करता रहा टॉर्चर, एक नोट में लिखी दर्द की 1-1 डीटेल।

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2018, 04:24 PM IST

शाहजहांपुर. बेटी की शादी धूमधाम से करना, हर पिता का सपना होता है। यूपी के शाहजहांपुर निवासी एक पिता ने भी अपनी बेटी मिताली की शादी बैंक ऑफ बड़ौदा की स्थानीय ब्रांच में मैनेजर रहे अभिषेक मिश्रा से तय की थी। ससुरालियों को खुश करने के लिए 40 लाख रुपए भी लुटाए, लेकिन 22 महीने बाद उनके घर आई बेटी की लाश। क्राइम सीरीज 'रिश्तों का मर्डर' में DainikBhaskar.com इसी साल फरवरी में सामने आए इस सनसनीखेज मर्डर मिस्ट्री केस के बारे में बता रहा है।

दहेज में गिफ्ट की थी 15 लाख की कार, लुटाए थे 40 लाख रु.

- शाहजहांपुर निवासी पृथ्वी नाथ की बेटी मिताली (23) पढ़ाई में तेज थी। उसने माइक्रोबायोलॉजी में पोस्ट ग्रैजुएशन किया था।
- 26 अप्रैल 2016 को मिताली की शादी बैंक मैनेजर अभिषेक से हुई। पृथ्वी नाथ ने बताया, "लड़के वालों ने कार की डिमांड रखी थी। मैंने अपनी हैसियत के मुताबिक उनके लिए 15 लाख रुपए की कार खरीदी थी। गोल्ड ज्वैलरी और अन्य इलेक्ट्रॉनिक गिफ्ट्स मिलाकर शादी में टोटल खर्च 40 लाख रुपए का आया था। कहीं कोई कसर नहीं रखी थी, लेकिन उनके मन में ज्यादा का लालच भरा था।"
- "शादी के बाद वो लोग हमसे डस्टर कार की डिमांड कर रहे थे। इसी बात को लेकर बेटी के साथ मारपीट करते थे। बेटी ने कई बार कहा कि वो वहां नहीं रहना चाहती, लेकिन हमने कहा कि रिश्ता निभाना ही समझदारी है। यही मेरी सबसे बड़ी गलती साबित हुई।"

प्रेग्नेंसी में भी दिया टॉर्चर

- मिताली की डेडबॉडी के पास से एक नोट मिला था, जिसमें उसने अपने साथ हुई हर बदसलूकी को डीटेल में लिखा था।
- लेटर में मिताली ने लिखा है, "शादी के दो महीने बीतते ही इन लोगों का रवैया बदल गया। मुझे फिजिकली और मेंटली टॉर्चर करते हैं। मैं जब प्रेग्नेंट हुई तो इन्होंने मेरा खाना बंद कर दिया। किसी टेस्ट से पता लगाया कि मेरी कोख में बेटी है। उसके बाद से मेरे अबॉर्शन की कोशिशें करने लगे। सास ने मुझे सीढ़ियों से धक्का भी दिया। 4 महीने की प्रेग्नेंसी में घर से धक्के मारकर निकाल दिया।"

बॉडी पर थे चोट के निशान, पर पीएम रिपोर्ट में आई चौंकाने वाली वजह

- मिताली की डेडबॉडी पर कई चोट के निशान थे। उसकी कमर मारपीट की वजह से लाल पड़ गई थी।
- हालांकि, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मौत को चोट की वजह से नहीं, बल्कि सामान्य बताया गया। रिपोर्ट के मुताबिक मिताली टीबी से ग्रसित थी, जिसके कारण उसके फेंफड़े खराब हो चुके थे।
- सीओ सिटी सुमित शुक्ला ने बताया, "पीएम रिपोर्ट में कोई चोट का निशान नहीं मिला था। लड़की के परिजनों द्वारा लगाए हत्या के आरोपों का कोई पुख्ता सबूत नहीं मिला। इसी वजह से इस केस को बंद किया जा चुका है।"
- मिताली के पिता के मुताबिक ससुरालियों ने पीएम रिपोर्ट बदलवा दी। वे आज भी अपनी बेटी के लिए इंसाफ को तरस रहे हैं।

नाना-नानी के घर रह रही है छोटी मिताली

- मिताली अपने पीछे 7 महीने की बच्ची छोड़ गई थी। वह बच्ची फिलहाल अपने नाना-नानी के घर रहती है। उसके पिता उससे कोई संबंध नहीं रखते।

मिताली की डेथ के बाद उसकी बेटी को गोद में लिए मृतका का भाई। मिताली की डेथ के बाद उसकी बेटी को गोद में लिए मृतका का भाई।
26 अप्रैल 2016 को हुई थी शादी। 26 अप्रैल 2016 को हुई थी शादी।
Mother tortured to death by husband for dowry of duster car in UP
Mother tortured to death by husband for dowry of duster car in UP
X
मिताली की डेथ के बाद उसकी बेटी को गोद में लिए मृतका का भाई।मिताली की डेथ के बाद उसकी बेटी को गोद में लिए मृतका का भाई।
26 अप्रैल 2016 को हुई थी शादी।26 अप्रैल 2016 को हुई थी शादी।
Mother tortured to death by husband for dowry of duster car in UP
Mother tortured to death by husband for dowry of duster car in UP
Bhaskar Whatsapp

Recommended