--Advertisement--

मुलायम और अखिलेश के बयानों की फर्जी कटिंग FB पर डालने पर FIR दर्ज

प्रभारी निरीक्षक विजयसेन सिंह ने बताया कि अखिलेश यादव के निजी सचिव गजेंद्र सिंह ने न्यूजपेपर कटिंग के साथ तहरीर दी है.

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2018, 12:21 PM IST
बता दें कि अखिलेश यादव ने शनिवार को 4 विक्रमादित्य मार्ग पर आवंटित बंगले की चाभियां संपत्ति विभाग को सौप दी थी बता दें कि अखिलेश यादव ने शनिवार को 4 विक्रमादित्य मार्ग पर आवंटित बंगले की चाभियां संपत्ति विभाग को सौप दी थी

लखनऊ. फर्जी पेपर कटिंग बनाकर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के बयानों को फेसबुक पर शेयर करने के मामले की एफआईआर गौतमपल्ली थाने में दर्ज करवाई गई है। अखिलेश यादव के निजी सचिव गजेंद्र सिंह ने न्यूजपेपर की फर्जी कटिंग के साथ लिखी तहरीर दी थी। जिसके बाद अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।


सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की साजिश
-गौतमपल्ली प्रभारी निरीक्षक विजयसेन सिंह ने बताया कि अखिलेश यादव के निजी सचिव गजेंद्र सिंह ने न्यूजपेपर कटिंग के साथ तहरीर दी है।
-इसमें बताया गया है कि अखिलेश यादव व मुलायम सिंह यादव के नाम का दुरूपयोग करके फर्जी न्यूजपेपर कटिंग तैयार की गई है।
- इसे फेसबुक पर शेयर करके सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की साजिश की गई है।
-गजेंद्र सिंह ने अखिलेश और मुलायम सिंह के खली हुए सरकारी बंगले में तोड़फोड़ को लेकर सोशल मीडिया में फ़ैल रही अफवाह को लेकर भी प्राथमिकी दर्ज करवाई है।

साइबर सेल की मदद से होगी जांच
-तहरीर के बाद आईटी (संशोधन) अधिनियम 2008 की धारा 66ए के तहत प्राथमिकी दर्ज करके साइबर क्राइम सेल की मदद से तफ्तीश की जा रही है।
-निरीक्षक ने बताया कि कई न्यूजपेपर कटिंग तैयार करके फेसबुक पर अपलोड किया गया है, मामले में तफ्तीश जारी है।
बता दें कि पिछले कई दिनों से फेसबुक पर अखिलेश यादव और मुलायम द्वारा एक संप्रदाय विशेष के प्रति लगाव को दिखाते हुए पेपर की कटिंग शेयर की जा रही है।

अखिलेश यादव के सरकारी बंगला खाली करने के बाद शुरू हुआ विवाद
- सोशल मीडिया पर जो तस्वीरें वायरल हो रही हैं, उसमें दिख रहा है कि बंगले की टाइल्स उखड़वाई गई हैं।
-साथ ही एसी समेत कई चीजों को घर से निकाल लिया गया है। यहं तक की बिजली बोर्ड और स्विच भी गायब हैं।
-बता दें कि अखिलेश यादव ने शनिवार को 4 विक्रमादित्य मार्ग पर आवंटित बंगले की चाभियां संपत्ति विभाग को सौप दी हैं।
-जब राज्य संपत्ति विभाग के अधिकारी योगेश कुमार शुक्ला से पूछा गया कि सोशल मीडिया पर ऐसी वीडियो क्लिपिंग वायरल हो रही हैं जिनमें दिख रहा है कि बंगले को खाली करने से पहले उसमें काफी तोड़फोड़ की गयी है।
-इस पर शुक्ला ने जवाब दिया,‘हम बंगले को देखेंगे कि उसे क्या नुकसान पहुंचाया गया है या फिर जो सामान संपत्ति विभाग द्वारा लगवाया गया था उसमें कोई वस्तु कम है उसके बाद ही हम बंगले के स्वामी को नोटिस देंंगे।

समाजवादी-भाजपा प्रवक्ता ने दी थी प्रतिक्रिया
-समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता सुनील सिंह साजन ने रविवार को इस वायरल वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुये कहा कि ऐसा पार्टी अध्यक्ष की छवि को धूमिल करने के उद्देश्य से किया जा रहा है।
उपचुनाव में पार्टी की लगातार जीत के बाद विरोधी खेमा ऐसे वीडियो वायरल करा रहा है।
-इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि ''विपक्षी मकान को 'व्हाइट हाऊस' कह रहे हैं तो क्या वह खुद 'ब्लैक हाऊस’ में रहते हैं।
-उधर दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने बीते शनिवार को जारी एक बयान में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सरकारी बंगले को खाली करने से पहले की गई कथित तोड़फोड़ पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि बंगले में तोड़फोड़ से उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा मुखिया अखिलेश यादव की कुण्ठा झलकी है।

पिछले कई दिनों से फेसबुक पर अखिलेश यादव और मुलायम द्वारा एक संप्रदाय विशेष के प्रति लगाव को दिखाते हुए पेपर की कटिंग शेयर की जा रही है। पिछले कई दिनों से फेसबुक पर अखिलेश यादव और मुलायम द्वारा एक संप्रदाय विशेष के प्रति लगाव को दिखाते हुए पेपर की कटिंग शेयर की जा रही है।
X
बता दें कि अखिलेश यादव ने शनिवार को 4 विक्रमादित्य मार्ग पर आवंटित बंगले की चाभियां संपत्ति विभाग को सौप दी थीबता दें कि अखिलेश यादव ने शनिवार को 4 विक्रमादित्य मार्ग पर आवंटित बंगले की चाभियां संपत्ति विभाग को सौप दी थी
पिछले कई दिनों से फेसबुक पर अखिलेश यादव और मुलायम द्वारा एक संप्रदाय विशेष के प्रति लगाव को दिखाते हुए पेपर की कटिंग शेयर की जा रही है।पिछले कई दिनों से फेसबुक पर अखिलेश यादव और मुलायम द्वारा एक संप्रदाय विशेष के प्रति लगाव को दिखाते हुए पेपर की कटिंग शेयर की जा रही है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..