--Advertisement--

यूपी में 15 लाख 59 हजार मनचलों पर कार्यवाही, अब कैमरे से लैस होगी एंटी रोमियो स्क्वाड; स्कूल में रखी जाएगी शिकायत पेटिका

34 लाख 27 हजार 348 को यूपी में चेक किया गया।

Danik Bhaskar | Jul 17, 2018, 11:27 AM IST
प्रदेश में बीते वर्ष सत्ता परि प्रदेश में बीते वर्ष सत्ता परि

लखनऊ. छेड़छाड़ की घटनाओं पर रोकने के लिए एंटी रोमियो स्क्वाड को कैमरों से लैस किया जाएगा। तीसरी आंख के जरिये सबूत एकत्र करने के साथ अदालत से सजा दिलाने में मदद मिलेगी। प्रदेश में बीते वर्ष सत्ता परिवर्तन के बाद छेड़छाड़ की घटनाओं को रोकने के लिए एण्टी रोमियो स्क्वाड बनाया गया था। इस स्क्वाड को अब कैमरों से लैस करने का निर्णय लिया गया है। 34 लाख 27 हजार 348 को यूपी में चेक किया गया जिसमे अब तक 15 लाख 59 हजार 358 को चेतवानी दी गई न मानने वालों के मामलों में 2448 मुक़दमे लिखे गए हैं। 4 हजार 357 पर वैधानिक कार्यवाही की गई हैं।

सादे कपड़ों में तैनात होंगे पुलिस कर्मी : डीजीपी ओपी सिंह
-पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने रविवार को जिलों के पुलिस अधिकारियों को इस बारे में दिशा-निर्देश जारी किये गये हैं।
-एंटी रोमियो स्क्वाड में तैनात पुलिस कर्मियों की डयूटी भी समय-समय पर बदलने का प्रयास किया गया जिससे मनचले उन्हें पहचान न सकें।
-स्कूल, कालेज, बाजार, मॉल, पार्क, बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेशन जैसे सार्वजनिक स्थलों पर सादे कपड़ों में महिला और पुरुष पुलिस कर्मियों को तैनात किया जाए, जिनके शरीर पर कैमरे लगे हों, जो जरूरत पड़ने पर छेड़छाड़ जैसी गतिविधियों में शामिल शोहदों की फोटो ले सकें।
-प्रत्येक जिले में थानाध्यक्ष, क्षेत्राधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के बालिका विद्यालयों, कालेजों के प्रधानाचार्य एवं अध्यापकों के सम्पर्क में रहेंगे और लड़कियों के साथ छेड़छाड़ अथवा इसी तरह की आपत्तिजनक हरकतों में शामिल मनचलों के बारे में जानकारी एकत्र करते हुए उनके विरुद्व कार्रवाई करेंगे।
-डीआईजी एलओ प्रवीण कुमार का कहना है कि, शहर के बाहरी इलाकों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी से दूर स्थित बालिका विद्यालयों और कोचिंग संस्थानों को भी एंटी रोमियो स्क्वाड के कार्यक्षेत्र में लाया जाएगा।
-डीजीपी सर ने लड़कियों के स्कूल, कॉलेजों और कोचिंग संस्थानों पर शिकायत पेटिका रखने का भी निर्देश दिया है ताकि छेड़छाड़ की शिकार कोई भी लड़की अपनी पहचान बताए बिना उसमें अपनी शिकायत डाल सके।
-इसी तरह पुलिस थानों में भी एक रजिस्टर रखा जाएगा, जिसमें चिह्नित स्थानों पर एंटी रोमियो स्क्वाड द्वारा की गयी कार्रवाई का विवरण रखा जाएगा।

-स्क्वाड के हत्थे चढ़े मनचले तथा शोहदे को पहली बार भविष्य में ऐसा न करने की हिदायत देकर समझाया जाएगा। इसके बाद उसकी फोटो को सुरक्षित रख लिया जाएगा ताकि दोबारा गलती करने पर कठोर कानूनी कार्रवाई की जा सके।