लखनऊ / 1985 बैच के आईएएस अधिकारी आर के तिवारी बने यूपी के मुख्य सचिव, अब तक कार्यवाहक के तौर पर देख रहे थे काम काज

उप्र सरकार ने आर के तिवारी को बनाया मुख्य सचिव, अभी तक कार्यवाहक थे। फाइल फोटो उप्र सरकार ने आर के तिवारी को बनाया मुख्य सचिव, अभी तक कार्यवाहक थे। फाइल फोटो
X
उप्र सरकार ने आर के तिवारी को बनाया मुख्य सचिव, अभी तक कार्यवाहक थे। फाइल फोटोउप्र सरकार ने आर के तिवारी को बनाया मुख्य सचिव, अभी तक कार्यवाहक थे। फाइल फोटो

  • 31 अगस्त, 2019 को तिवारी ने संभाला था कार्यवाहक मुख्य सचिव के तौर पर काम, पूर्व मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडये के सेवानिवृत्त होने के बाद मिली थी जिम्मेदारी
  • कई विभागों में प्रमुख सचिव के पदों पर तैनात रहे चुके हैं, गोरखपुर के मंडलायुक्त और आगरा समेत कई जिलों के डीएम रह चुके हैं तिवारी

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2020, 01:07 PM IST

लखनऊ. आखिरकार लंबे इंतजार के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने आरके तिवारी को मुख्य सचिव बनाने का फैसला किया है। वह अभी तक कार्यवाहक मुख्य सचिव के रूप में काम कर रहे थे। आरके तिवारी आगरा के डीएम और गोरखपुर के मंडलायुक्त भी रह चुके हैं। आरके तिवारी 1985 बैच के आईएएस अधिकारी रहे हैं। 31 अगस्त 2019 को उन्होंने पदभार ग्रहण किया था।

आरके तिवारी प्रदेश सरकार के महत्वपूर्ण पदों उच्च शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, श्रम, वाणिज्य कर, श्रम एवं सेवायोजन, आईटी एवं इलेक्ट्रानिक, गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव एवं सचिव तथा आयुक्त पद सुशोभित करने के पूर्व गोरखपुर के मण्डलायुक्त तथा सुल्तानपुर, मिर्जापुर, आगरा के जिलाधिकारी के पद पर तैनात रहे हैं। 

केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर भी तैनात रहे हैं आर के तिवारी

भारत सरकार में संयुक्त सचिव कृषि एवं कार्पोरेशन विभाग में भी तैनात रहे हैं। पहले से भी यह चर्चा थी कि अगर कोई और नाम सामने नहीं आया तो तिवारी ही मुख्य सचिव होंगे। 31 अगस्त, 2019 को अनूप चंद्र पांडेय के रिटायर होने के बाद मुख्य सचिव की खोज शुरू हुई थी। कार्यकारी के तौर पर राजेंद्र कुमार तिवारी को उस समय ये जिम्मेदारी दी गई थी। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना