--Advertisement--

लखनऊ के दंपती का पासपोर्ट क्लियर, जांच में कहा गया- अफसर ने गैरजरूरी सवाल किए, पुलिस जांच गलत थी

तन्वी और अनस ने सुषमा स्वराज से धर्म के नाम पर भेदभाव की शिकायत की थी।

Danik Bhaskar | Jul 04, 2018, 05:43 PM IST

- लखनऊ के दंपती तन्वी और अनस सिद्दीकी से जुड़ा मामला

- पुलिस वेरिफिकेशन में सिर्फ आवेदक का आपराधिक रिकॉर्ड और उसकी नागरिकता जांची जाती है

नई दिल्ली. लखनऊ पासपोर्ट मामले में सरकार की आंतरिक जांच में सामने आया कि पासपोर्ट अधिकारी ने दंपती से गैरजरूरी सवाल किए थे। सूत्रों के मुताबिक, रिपोर्ट में कहा गया कि जब तन्वी और अनस सिद्दीकी पासपोर्ट दफ्तर पहुंचे तो अफसर ने उनके धर्म के बारे में ऐसे सवाल किए, जिनका औचित्य नहीं था। उत्तर प्रदेश पुलिस सत्यापन प्रक्रिया के दौरान गैरजरूरी जानकारी मांग रही थी। पुलिस का यह तरीका भी गलत था।

उधर, उत्तर प्रदेश क्षेत्रीय पासपोर्ट ऑफिस ने कहा कि दंपती का पासपोर्ट क्लियर कर दिया गया है। क्षेत्रीय पासपोर्ट ऑफिस ने कहा कि विदेश मंत्रालय की नई गाइडलाइंस के मुताबिक, पुलिस को सिर्फ दो चीजों की रिपोर्ट देनी होती है। पहली- आवेदक का कोई अापराधिक रिकॉर्ड तो नहीं है? दूसरी- उसकी नागरिकता की क्या पुष्टि होती है?

तन्वी और अनस ने पासपोर्ट अधिकारी पर धर्म के नाम पर भेदभाव का आरोप लगाया था और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से इसकी शिकायत की थी। सुषमा से शिकायत के बाद विदेश विभाग हरकत में आया और लखनऊ के पासपोर्ट अधिकारी विकास मिश्रा का तबादला कर दिया गया। इस मामले को लेकर सुषमा कई दिनों से ट्रोलर्स के निशाने पर हैं।

पुलिस ने नाम और पते पर उठाए थे सवाल: पासपोर्ट ऑफिस और पुलिस वेरिफिकेशन की जांच रिपोर्ट में कहा गया था कि पासपोर्ट अर्जी में नाम तन्वी सेठ लिखा है, जबकि मैरिज सर्टिफिकेट पर नाम सादिया अनस लिखा है। तन्वी नोएडा में नौकरी करती हैं और वहीं किराए के घर में रहती हैं। तन्वी ने अपनी अर्जी में किराए के घर के पते का जिक्र नहीं किया है। एसएसपी दीपक कुमार ने कहा था कि तन्वी लखनऊ के दिए पते पर पिछले एक साल से नहीं रह रही हैं।

तन्वी ने कहा था- अफसर ने सरनेम पर सवाल उठाया: जून में तन्वी सेठ पति अनस सिद्दीकी के साथ लखनऊ के पासपोर्ट ऑफिस पहुंची थीं। तन्वी का आरोप था कि वहां अफसर विकास मिश्रा ने उनसे कहा था कि मुस्लिम युवक से शादी के बाद भी उन्होंने सरनेम क्यों नहीं बदला? तन्वी के पति अनस ने बताया था कि अधिकारी ने उनसे धर्म बदलकर तन्वी के साथ फेरे लेने को कहा था।