--Advertisement--

लखनऊ में कारोबारी भाइयों के 5 ठिकानों पर आयकर का छापा, 100 किलो सोना और 10 करोड़ रुपए जब्त

आयकर विभाग ने रस्तोगी एंड संस के मालिकों के ठिकानों पर मंगलवार को छापेमारी शुरू की थी।

Danik Bhaskar | Jul 19, 2018, 01:45 PM IST
छापेमारी में बरामद नोटों की गिनती के लिए एसबीआई के कर्मचारियों की मदद ली गई। छापेमारी में बरामद नोटों की गिनती के लिए एसबीआई के कर्मचारियों की मदद ली गई।

- रस्तोगी बंधुओं के ठिकानों से मिले सोने की कीमत 32 करोड़ रुपए से ज्यादा आंकी गई

- आयकर विभाग के 40 अफसरों की टीम ने रस्तोगी एंड संस के ठिकानों पर कार्रवाई की

लखनऊ. उत्तरप्रदेश में रस्तोगी एंड संस के पांच ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की। इस दौरान 100 किलोग्राम सोना और करीब 10 करोड़ रुपए की नकदी जब्त की गई। एक अफसर ने बताया कि 16 लाख रुपए छोड़कर बाकी रकम और सोना जब्त कर लिया गया। रस्तोगी परिवार के नाम 98 करोड़ की अघोषित संपत्ति के दस्तावेज भी मिले हैं। इसे प्रदेश में आयकर विभाग की सबसे बड़ी कामयाबी माना जा रहा है।

आयकर उपायुक्त रवि मल्होत्रा के मुताबिक, आयकर विभाग के 40 अफसरों ने मंगलवार सुबह छापेमारी शुरू की, जो बुधवार देर शाम तक जारी रही। कंपनियों के लॉकर्स की जांच होना बाकी है। कारोबारी कन्हैया लाल और उनके भाई संजय रस्तोगी बरामद सोने व रकम का हिसाब नहीं दे पाए। ज्यादातर रकम 2000 और 500 रुपए के नोटों में मिली। एसबीआई के कर्मचारियों की मदद से 10 घंटे में इनकी गिनती की गई। बताया जा रहा है कि दोनों भाइयों का वेयरहाउस, ईंट भट्ठा, फाइनेंस, रियल स्टेट और ज्वेलरी का कारोबार है।

रस्तोगी बंधुओं के ठिकानों से 100 किलो सोना मिला। रस्तोगी बंधुओं के ठिकानों से 100 किलो सोना मिला।
आयकर अफसरों ने मंगलवार सुबह लखनऊ में छापेमारी शुरू की। आयकर अफसरों ने मंगलवार सुबह लखनऊ में छापेमारी शुरू की।