उप्र / 80 किमी पैदल चलकर न्याय मांगने सीएम आवास पहुंचा परिवार, पीड़ित बोली- 14 माह बाद भी गैंगरेप के आरोपी गिरफ्तार नहीं

रायबरेली से आए परिवार ने न्याय की मांग की। रायबरेली से आए परिवार ने न्याय की मांग की।
X
रायबरेली से आए परिवार ने न्याय की मांग की।रायबरेली से आए परिवार ने न्याय की मांग की।

  • परिवार ने आरोपियों पर कार्रवाई न करने पर मांगी इच्छामृत्यु
  • हजरतगंज पुलिस परिवार को कोतवाली ले गई, पूछताछ जारी 

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 01:12 PM IST

लखनऊ. सामूहिक दुष्कर्म मामले की पीड़ित महिला बुधवार को परिवार समेत रायबरेली से 80 किमी पैदल चलकर लखनऊ में सीएम आवास पहुंची। यहां परिवार ने न्याय नहीं मिलने पर इच्छामृत्यु की मांग की। आरोप है कि 14 माह पहले उसके साथ गांव के दबंगों ने गैंगरेप किया। पुलिस अब तक आरोपियों को पकड़ नहीं सकी है। योगी के जनता दरबार से लेकर डीजीपी तक से अब तक सिर्फ आश्वासन मिला है। 

परिवार के हाथ में एक बैनर था। जिस पर लिखा था- गैंगरेप के आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करो, वरना हमें इच्छामृत्यु का अधिकार दें। इस घटना को एक साल बीत चुके हैं। सूचना पाकर पहुंची हजरतगंज पुलिस पांच कालीदास मार्ग से परिवार को अपने साथ कोतवाली ले गई। यहां पीड़ित परिवार से पूछताछ की जा रही है।  

यह है मामला
पीड़ित महिला का आरोप है कि साल 2018 में गांव के दबंगों ने बंदूक के बल पर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। पीड़ित ने स्थानीय थाने में केस दर्ज कराया। लेकिन, पुलिस अब तक सिर्फ विवेचना का हवाला दे रही है। आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया है। महिला के पति ने पुलिस पर जातिवाद मानसिकता के तहत कार्रवाई न करने का आरोप लगाया। कहा- कई बार जनता दरबार और डीजीपी कार्यालय आए। हर बार विवेचना चल रही, यही बात कही जाती है। 

 
हमें इच्छा-मृत्यु दी जाए
परिवार ने बताया कि हम न्याय की मांग को लेकर रायबरेली से पैदल चलकर लखनऊ पहुंचे हैं। आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए। नहीं कर सकते हैं तो हमें इच्छामृत्यु का अधिकार दे दिया जाए। एक साल से अधिक समय हो चुका है। आज तक पुलिस ने किसी की गिरफ्तारी नहीं की है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना