--Advertisement--

सरकारी बंगले में तोड़फोड़ को लेकर यूपी की सियासत गर्म, अखिलेश ने लगाए आरोप; सरकार ने दिए जवाब

अखिलेश ने कहा कि मेरे ऊपर लगाए गए सभी आरोप बेबुनियाद हैं।

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2018, 06:33 PM IST
SP and BJP statement on the Issue of government bungalow

लखनऊ. राजधानी लखनऊ में अखिलेश यादव द्वारा सरकारी बंगले में तोड़फोड़ को लेकर बयानबाजी और प्रतिक्रियाओं का दौर चलता रहा। सपा प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सरकारी बंगले में तोड़फोड़ के मामले में पहली बार सफाई दी वहीं, सरकार के प्रवक्ता ने अखिलेश यादव के खिलाफ जमकर हमला बोला।

क्या कहा अखिलेश ने
- अखिलेश यादव ने सफाई देते हुए कहा, "मेरे ऊपर लगाए गए सभी आरोप बेबुनियाद हैं। बंगले के जो फोटो दिखाए जा रहे हैं, उसमें सच्चाई छुपाई जा रही है। मैं सिर्फ वही सामान लेकर गया हूं, जिन्हें मैंने अपने पैसे से लगाया था।" उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा राज्य में हुए चुनावों में हार पर बौखलाई हुई है और ऐसे आरोप लगा रही है।
-अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि मैं टोंटी लेकर आया हूं, जो गायब हो गई थी। वही लौटाने आया हूं। सीएम आवास में भी मेरा बहुत सारा सामान है, वो सब लौटा दें सीएम। लोग प्यार में अंधे होते हैं, लेकिन गुस्से में कितने अंधे होते हैं, वो अब दिख रहा है।
- "पिछले सवा साल में मेरे घर एक हजार बच्चे आए होंगे। उन सबसे पूछो कि कहां है स्वीमिंग पूल। जो स्वीमिंग पूल है ही नहीं, उस पर खबर बना दी गई कि पूल पर मिट्टी डाल दी गई।"


सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा- खिसियानी बिल्ली खंभा नोंचे
- सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, "खिसयानी बिल्ली खम्बा नोंचे वाली कहावत कहूंगा। गवर्नर साहब ने जो चिट्ठी लिखी, वह सबने पढ़ी है। चिट्ठी में लिखा है कि जिस मकान में अखिलेश यादव रह रहे थे वो सरकारी संपत्ति थी। शायद उनको यह अहसास हो गया था अगली बार वो सीएम नहीं रहेंगे।''
- "जिन प्रश्नों को उन्होंने उठाया था उस पर भी मैं एक मुहावरा कहूंगा। जिस अंदाज में आज वो प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे उससे यह कहां जा सकता था की "चोर की दाढ़ी में तिनका" जैसा था। आज पूर्व सीएम ने स्वीकार किया मैंने बंगला बनवाया इसलिए इनकम टैक्स वालों को देखना चाहिए कि टैक्स सही से मिल रहा है कि नहीं।''


योगी के मंत्री ने की जांच की मांग
- वहीं, राज्य के ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर स्वतंत्र देव सिंह ने कहा, "एसी निकाल लिए गए हैं, टाइल्स भी गायब हैं। आखिर ये सरकार संपत्ति है। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना की है। इस मामले की पूरी जांच की जानी चाहिए।''


अखिलेश के लगाए आरोपों का सिद्धार्थ नाथ सिंह ने दिया जबाव

अखिलेश यादव: मीडिया से पहले सीएम के ओएसडी अभिषेक और आईएएस मृत्युंजय क्यों घर गए थे ?
सिद्धार्थनाथ सिंह: अखिलेश यादव ने जिस आईएएस अधिकारी का नाम लिया है वो सरकारी आवास में नहीं गए थे।
SP and BJP statement on the Issue of government bungalow

अखिलेश यादव: जब तक सरकार की रिपोर्ट न आए कैसे पता चलेगा 42 करोड़ कहां खर्च हुए? सरकार रिपोर्ट क्यों नहीं दे रही? 
सिद्धार्थनाथ सिंह: अखिलेश यादव ने जो पैसा बंगले में लगाया उसकी इनकमटैक्स विभाग से इन्क्वारी होनी चाहिए?

SP and BJP statement on the Issue of government bungalow

अखिलेश यादव: मेट्रो और बस अड्डे के उद्घाटन में पुरानी सरकार को धन्यवाद नहीं दिया?
सिद्धार्थ नाथ सिंह: उनके कार्यकाल में काम ही नहीं हुआ। कैसे कह रहे हैं उनके काम का रिबन काटा जा रहा है।

SP and BJP statement on the Issue of government bungalow

अखिलेश यादव : गवर्नर साहब बहुत अच्छे इंसान हैं। लेकिन उनमें आरएसएस की आत्मा आ जाती है।
सिद्धार्थनाथ सिंह: राज्यपाल महोदय की चिट्ठी पर किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए।

SP and BJP statement on the Issue of government bungalow

अखिलेश यादव: मेरे घर में स्विमिंग पूल नहीं था, बताया गया कि स्विमिंग पूल है?
सिद्धार्थनाथ सिंह: इस पर मैं यही कहूंगा कि खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे।

X
SP and BJP statement on the Issue of government bungalow
SP and BJP statement on the Issue of government bungalow
SP and BJP statement on the Issue of government bungalow
SP and BJP statement on the Issue of government bungalow
SP and BJP statement on the Issue of government bungalow
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..