अखिलेश प्रकरण / राज्यपाल से मिला सपा-बसपा का प्रतिनिधिमंडल, हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से पूरे मामले की जांच की मांग



बुधवार सुबह राज्यपाल से मिला सपा-बसपा का प्रतिनिधिमंडल। बुधवार सुबह राज्यपाल से मिला सपा-बसपा का प्रतिनिधिमंडल।
X
बुधवार सुबह राज्यपाल से मिला सपा-बसपा का प्रतिनिधिमंडल।बुधवार सुबह राज्यपाल से मिला सपा-बसपा का प्रतिनिधिमंडल।

  • पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश को इलाहबाद जाते समय एयरपोर्ट पर रोका गया था
  • अखिलेश ने योगी सरकार पर लगाए थे गंभीर आरोप
  • प्रतिनिधिमंडल ने कहा- अखिलेश के साथ अधिकारियों ने किया दुर्व्यवहार 

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2019, 12:12 PM IST

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को मंगलवार को अमौसी एयरपोर्ट पर रोके जाने के मामले को लेकर बुधवार सुबह सपा-बसपा के संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल राम नाइक से मुलाकात की। इस प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से कहा कि भाजपा सरकार लोकतांत्रिक तरीके से काम नहीं कर रही है। अखिलेश यादव को एयरपोर्ट पर जाबूझकर रोका गया और सपा कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किया गया। इस पूरे मामले की जांच हाईकोर्ट के रिटायर्ड न्यायाधीश से कराई जानी चाहिए।

सपा बसपा डेलिगेशन ने राज्यपाल से मिलने के बाद की मीडिया से बात करते हुए यह बातें कही। नेता विरोधी दल विधानपरिषद, अहमद हसन और बसपा नेता विधानसभा लालजी वर्मा के साथ एक प्रतिनिधिमण्डल राज्यपाल से राजभवन में सुबह मुलाकात की। प्रतिनिधमंडल ने कहा कि प्रदर्शन कर रहे सपा कार्यकर्ताओं पर बर्बर तरीके से लाठीचार्ज किया गया। यही नहीं पूरे प्रदेश में सपा कार्यकर्ताओं पर झूठे मुकदमें लगाए गए। प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि हमने राज्यपाल से मांग की है कि झूठे मुकदमों को वापस किया जाए साथ ही यूपी की कानून व्यवस्था पर ध्यान दिया जाए। उन्होंने राज्यपाल से मांग की है की हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से पूरे मामले की जांच कराई जाए जिससे सच का खुलासा हो सके। प्रयागराज में सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष को बुलाया गया था और वह साधु संतों से मिलने जा रहे थे। यही नहीं छात्र संघ के कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए पहले से ही तय किया गया था। बीजेपी सरकार के खिलाफ समाजवादी पार्टी सड़क से लेकर संसद तक आंदोलन करेगी और यह मुद्दा आज विधानसभा में भी उठाया जाएगा।

क्या है मामला; सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव मंगलवार सुबह इलाहाबाद जाने के लिए अमौसी एयरपोर्ट पहुंचे थे। उन्हें अपने विशेष विमान से इलाहाबाद विश्वविद्यालय में आयोजित छात्र संघ के शपथ ग्रहण समारोह में जाना और फिर उनका कार्यक्रम कुंभ जाने का भी था। लेकिन एयरपोर्ट पर ही अधिकारियों ने उन्हें यह कहकर रोक लिया कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय में जाने से कानून व्यवस्था बिगड़ सकती है। इस पर अखिलेश ने ट्विट कर जानकारी दी। उनके ट्विट के बाद उप्र के दोनों सदनों में जमकर हंगामा हुआ। इस मामले को लेकर पूरे उप्र में सपा कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह सीएम योगी का पुतला फूंका था। अब इसी मामले को लेकर सपा-बसपा के प्रतिनिधिमंडल ने आज राज्यपाल से मुलाकात कर पूरे मामले की जांच कराने की मांग उठाई है।

COMMENT