उन्नाव / प्रियंका दुष्कर्म पीड़ित के परिजन से मिलीं, कहा- परिवार को एक साल से प्रताड़ित किया जा रहा, आरोपियों को भाजपा बचा रही

उप्र विधानसभा के बाहर धरना देते सपा नेता। बाएं से- सपा के प्रदेशाध्यक्ष नरेश उत्तम, राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी। उप्र विधानसभा के बाहर धरना देते सपा नेता। बाएं से- सपा के प्रदेशाध्यक्ष नरेश उत्तम, राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी।
पीड़ित को 5 दिसंबर को लखनऊ से दिल्ली लाया गया था। पीड़ित को 5 दिसंबर को लखनऊ से दिल्ली लाया गया था।
X
उप्र विधानसभा के बाहर धरना देते सपा नेता। बाएं से- सपा के प्रदेशाध्यक्ष नरेश उत्तम, राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी।उप्र विधानसभा के बाहर धरना देते सपा नेता। बाएं से- सपा के प्रदेशाध्यक्ष नरेश उत्तम, राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी।
पीड़ित को 5 दिसंबर को लखनऊ से दिल्ली लाया गया था।पीड़ित को 5 दिसंबर को लखनऊ से दिल्ली लाया गया था।

  • 90% जली पीड़ित ने शुक्रवार रात 11.40 बजे दिल्ली के अस्पताल में दम तोड़ दिया, उसे कार्डियक अरेस्ट भी हुआ था
  • घटना को लेकर अखिलेश यादव ने विधानसभा के बाहर धरना दिया, बोले- मुख्यमंत्री और डीजीपी को हटाए बिना प्रदेश में कानून-व्यवस्था लागू नहीं हो सकती
  • उन्नाव के सांसद साक्षी महाराज, प्रदेश की मंत्री कमला रानी और स्वामी प्रसाद मौर्य पीड़ित के घर पहुंचे, एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने पीड़ित के परिवार को 25 लाख रुपए का मुआवजा देने और मामले की सुनवाई फास्ट ट्रेक कोर्ट में कराने की बात कही

रवि श्रीवास्तव

रवि श्रीवास्तव

Dec 08, 2019, 10:40 AM IST

लखनऊ. उन्नाव दुष्कर्म पीड़ित की मौत के बाद शनिवार को उत्तर प्रदेश की राजनीति भी गरमा गई। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव विधानसभा के बाहर धरना दिया। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी उन्नाव में पीड़ित के परिजन से मिलीं। उन्होंने कहा कि परिवार को एक साल से प्रताड़ित किया जा रहा है। मैंने आरोपियों के भाजपा से संबंध के बारे में सुना है। यही वजह है कि उन्हें बचाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में अपराधियों के मन में डर नहीं रह गया है।

इसके बाद उन्नाव के भाजपा सांसद साक्षी महाराज, प्रदेश की मंत्री कमला रानी और स्वामी प्रसाद मौर्य पीड़ित के घर पहुंचे। यहां एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ प्रदर्शन किया। साक्षी महाराज ने कहा कि सभी दोषियों को सजा मिलेगी, किसी को नहीं बख्शा जाएगा। उन्नाव की छवि धूमिल हुई है। मौर्य ने कहा कि लड़की का परिवार जो जांच चाहता है, सरकार उसके लिए तैयार है। पीड़ित ने जिनके भी नाम बताए थे, उनके खिलाफ कार्रवाई करेंगे। यह कोई राजनीति का मुद्दा नहीं है।

पीड़ित की मौत के बाद उन्नाव जिले के बिहार कस्बे को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। पुलिस और जिला प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। कस्बे में सन्नाटा पसरा है। ग्रामीण पिछले दो दिनों से अपने घरों में दुबके हुए हैं।

‘भाजपा ही आरोपी’
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, ‘‘ये उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार कार्यकाल में पहली घटना नहीं है। याद करिए वो समय जब एक बेटी मुख्यमंत्री आवास के सामने न्याय मांग रही थी, उसे न्याय नहीं मिला तो उसने आत्मदाह की कोशिश की। उन्नाव की एक बेटी ने तो अपना पूरा परिवार खो दिया। कौन था आरोपी। भाजपा के नेता। उन्नाव की इस घटना के लिए कौन दोषी है। इसके लिए भाजपा ही जिम्मेदार है। जो लोग आरोपी हैं, वो भी भाजपा से ही जुड़े हैं। उस बेटी का जब पूरा शरीर जला तो वो भागी। मदद की गुहार के साथ। क्या आज के समय में ऐसी घटना होगी कि कोई जिंदा जला देगा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और डीजीपी के हटे बिना कानून व्यवस्था लागू नहीं हो सकती।’’

प्रियंका ने ट्वीट किए

मायावती राज्यपाल से मिलीं
बसपा सुप्रीमो मायावती ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात कर उन्हें उन्नाव कांड और प्रदेश में महिला उत्पीड़न को लेकर ज्ञापन दिया। पत्रकारों से बातचीत में बसपा प्रमुख ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अपराधियों के बीच कानून का डर नहीं है। बलात्कार की घटनाएं अब आम हैं। राज्यपाल से मैंने कहा है कि महिला होने के नाते आप दूसरी महिला के दर्द को समझती हैं। प्रदेश में महिला उत्पीड़न की घटनाओं पर आपको दखल देना चाहिए। यूपी सरकार ज्यादा गंभीर नहीं दिख रही है।

पीड़ित ने देर रात दम तोड़ा 
90% झुलसी उन्नाव की दुष्कर्म पीड़ित ने शुक्रवार रात 11.40 बजे कार्डियक अरेस्ट के बाद दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। 5 दिसंबर की देर शाम उसे एयरलिफ्ट कर दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल लाया गया था। जमानत पर छूटे दुष्कर्म के आरोपियों ने गुरुवार तड़के उसे जलाया दिया था।

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना