Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Up Ats Arrested Isi Agent From Uttarakhand

पाक स्थित भारतीय दूतावास के अफसर का रसोइया अरेस्ट, आईएसआई को खुफिया जानकारी देने का आरोप

यूपी एटीएस थाने में उसके खिलाफ 20 मई को मुकदमा दर्ज किया गया था।

DainikBhaskar.com | Last Modified - May 24, 2018, 12:47 PM IST

  • पाक स्थित भारतीय दूतावास के अफसर का रसोइया अरेस्ट, आईएसआई को खुफिया जानकारी देने का आरोप
    +1और स्लाइड देखें
    आरोपी रमेश कन्याल का भाई भी सेना में तैनात है। (फाइल)

    लखनऊ.पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई को खुफिया जानकारी देने के आरोप में पुलिस ने बुधवार देर शाम को उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के डीडीहाट इलाके से एक शख्स को अरेस्ट किया। इसकी पहचान रमेश सिंंह कन्याल नाम से हुई है। इस कार्रवाई को उत्तर प्रदेश एटीएस और उत्तराखंड पुलिस ने अंजाम दिया। इस पर आरोप है कि उसने पाकिस्तान में ब्रिगेडियर के घर पर काम करते वक्त उनके बारे में सारी जानकारियां लीक की थीं। यूपी एटीएस थाने में उसके खिलाफ 20 मई को मुकदमा दर्ज किया गया था।

    कौन है आरोपी रमेश कन्याल?

    - यूपी एटीएस के आईजी असीम अरुण ने बताया कि रमेश सिंंह कन्याल का भाई आर्मी में तैनात है। उसी की सिफारिश पर रमेश को एक ब्रिग्रेडियर के घर पर खाना बनाने का काम मिला। कुछ वक्त बाद इस ब्रिगेडियर की नियुक्ति पाकिस्तान स्थित भारतीय दूतावास में हो गई।

    - रमेश बेहद अच्छा बनाता था। इसलिए उसे ब्रिगेडियर अपने साथ पाकिस्तान ले गया। वहीं, वह पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के संपर्क में आ गया।

    क्या आरोप हैं?

    - रमेश पर आरोप है कि वह ब्रिगेडियर के बारे में खुफिया जानकारियां आईएसआई को देता था। इसके अलावा, पिछले साल भारत और नेपाल के बीच हुए 12वां संयुक्त सैन्य अभ्यास की सूचनाएं भी इसने आईएसआई के एजेंट के साथ शेयर कीं।

    कश्मीर के रास्ते पाक सीमा तक गया
    - यूपी एटीएस के आईजी असीम अरुण ने बताया कि रमेश कई बार पंजाब और कश्मीर के रास्ते पाक सीमा तक गया है। एटीएस यह भी पता कर रही है कि रमेश कभी अकेला पाकिस्तान गया था या नहीं।

    -एटीएस ने रमेश के पास मिले लैपटॉप और फाइलों को कब्जे में ले लिया है। लैपटाप में कई जरूरी चीजें मिली हैं।

    कॉल डिटेल में एक नम्बर पर कई बार बात
    -एटीएस सूत्रों ने बताया कि रमेश के मोबाइल की कॉल डिटेल में एक नम्बर ऐसा है जिन पर कई बार बात की गई है। यह बात भी सामने आयी है कि इस मोबाइल में उसने तीन सिम लगाये थे। पर, मोबाइल का इस्तेमाल वह बेहद कम करता था। वह साइबर कैफे काफी जाता था। उसके बारे में स्थानीय लोगों से पुलिस जानकारी जुटा रही है।

    पहचान छुपाकर रह रहा था
    - बुधवार को एटीएस की 5 सदस्यीय टीम ने आरोपी को रिमांड पर ले लिया। जब यह कार्रवाई की गई तब वह पिथौरागढ़ जिले के गराली खोली, जौलजीवी, डीडीहाट में पहचान छुपाकर रह रहा था। यहां एक दुकान चला रहा था।

    -ढाई साल पहले वह पाकिस्तान से आया था। संदिग्ध के पास से एटीएस ने पाकिस्तानी ब्रैंड का मोबाइल भी बरामद किया है।
    -आईजी असीम अरुण ने बताया कि रमेश को पिथौरागढ़ की कोर्ट में पेश किया था। वहां से ट्रांजिट रिमांड लेकर रमेश को लखनऊ लाया जा रहा है।

  • पाक स्थित भारतीय दूतावास के अफसर का रसोइया अरेस्ट, आईएसआई को खुफिया जानकारी देने का आरोप
    +1और स्लाइड देखें
    यूपी एटीएस के आईजी असीम अरुण ने बताया कि रमेश कई बार पंजाब और कश्मीर के रास्ते पाक सीमा तक गया है। (फाइल)
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×