• Hindi News
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Ajay Kumar Lallu। Up Congress President On Law And Order। Says CM Yogi Aditaynath Will Go Gorakhpur, the state is not able to sustain them

अमेठी / कानून व्यवस्था पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बोले- सीएम गोरखपुर जाएं, उनसे प्रदेश संभल नहीं रहा

अमेठी में कांग्रेसियों के साथ प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू। अमेठी में कांग्रेसियों के साथ प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू।
X
अमेठी में कांग्रेसियों के साथ प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू।अमेठी में कांग्रेसियों के साथ प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू।

  • कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने रविवार को अमेठी का किया दौरा
  • बोले- हत्या प्रदेश के रुप में बनी उत्तर प्रदेश की पहचान

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2020, 06:04 PM IST

अमेठी. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने रविवार को अमेठी में योगी सरकार पर निशाना साधा। कहा- उत्तर प्रदेश की पहचान हत्या के प्रदेश के रूप में हो गई है। यहां गुंडाराज और जंगलराज है। सरकार कमिश्नरी प्रणाली बना ले या कोई और प्रणाली ले आए। मुख्यमंत्री से ये प्रदेश नहीं संभल सकता है। मुख्यमंत्री गोरखपुर जाएं, वहां के लोग उनका इंतजार कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश के लोगों का ऐतबार आपसे पूरी तरह समाप्त हो गया है।


अजय कुमार ने कहा- मुख्यमंत्री सदन में या तो सड़कों पर भाषण देते हैं, या कहते हैं कि अपराधी या तो जेल में हैं या उत्तर प्रदेश छोड़कर भाग चुके हैं। लेकिन अभी तीन दिन पहले गौरव चंदेल की हत्या हो गई। हर तीसरे दिन चाहे वो गाजियाबाद हो, कानपुर हो या लखनऊ जैसी राजधानी में जिस तरह से हत्याओं का दौर चालू है, बलात्कार का दौर चालू है, लूट तेजी से बढ़ रही है। उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से समाप्त हो चुकी है, कानून का राज समाप्त है। जंगलराज कायम है।

सीएए और एनआरसी संविधान विरोधी
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा- छात्रों की आवाज उठाना, दमन की राजनीत के खिलाफ संघर्ष करना, किसानों और महिलाओं की बात करना गलत है तो प्रियंका गांधी और कांग्रेस का एक एक कार्यकर्ता इस बात के लिए संकल्पित है के आवाज उठाने का काम करेंगे। हम दमन के खिलाफ लड़ेंगे, जुल्म और ज्यादती के खिलाफ लड़ेंगे और जो लोग हमारे अधिकारों का हनन करेंगे उनका मुंह तोड़ जवाब देने का काम करेंगे। उन्होंने कहा एनआरसी सीएए के खिलाफ अहिंसा के साथ मजबूती के साथ खड़े हैं, सीएए और एनआरसी संविधान विरोधी है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना