अंधविश्वास / हाईटेंशन से झुलसे किसान को गड्ढे में लिटाकर रेत से पाट दिया, पांच घंटे बाद चली गई जान



गड्ढे में दबाया गया किसान। गड्ढे में दबाया गया किसान।
जोगा सिंह। -फाइल जोगा सिंह। -फाइल
X
गड्ढे में दबाया गया किसान।गड्ढे में दबाया गया किसान।
जोगा सिंह। -फाइलजोगा सिंह। -फाइल

  • पीलीभीत जिले के गजरौला थाना इलाके का मामला
  • पुलिस ने बिजली विभाग पर गैर इरादतन हत्या का दर्ज किया केस

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2019, 04:48 PM IST

पीलीभीत. जिले के एक अधेड़ किसान की झाड़-फूंक के फेर में जान चली गई। किसान के ऊपर टूटकर हाईटेंशन गिरी थी, जिससे वह झुलस गया था। लेकिन परिजनों ने उसे गड्ढे में लिटाकर शरीर को रेत (बालू) से पाट दिया। हादसे के पांच घंटे के बाद किसान की मौत हो गई। पुलिस ने इस प्रकरण में बिजली विभाग पर गैर इरादन हत्या का केस दर्ज किया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। 

 

मंगलवार शाम की घटना
थाना गजरौला क्षेत्र के गांव पिंडरा निवासी 58 बर्षीय जोगा सिंह के घर के ऊपर से हाइटेंशन की लाइन गुजर रही है। बीते मंगलवार को जोगा सिंह अपने घर के आंगन में खड़े थे। तभी लाइन बिजली का तार टूटकर उनके ऊपर गिर गया। जिससे वह झुलस गए। लेकिन परिजनों ने इलाज के लिए अस्पताल ले जाने के बजाए झाड़-फूंक शुरू कर दिया। घर पर ही गड्ढा खोदकर जोगा को रेत के नीचे दबा दिया गया। लेकिन पांच घंटे बाद उनकी मौत हो गई।

 

हादसे के बाद नहीं पहुंची पुलिस

परिजनों का दावा है कि, उन्होंने घटना के बाद बिजली व पुलिस विभाग को सूचना दी। लेकिन न तो पुलिस मौके पर पहुंची न ही बिजली विभाग को कोई आया। पुलिस ने बुधवार को बिजली विभाग के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है। बिजली विभाग पर आरोप है कि जोगा सिंह का मकान 40 साल पुराना है। परिजनों व गांव वालों के विरोध के बावजूद बिजली विभाग ने हाइटेंशन मकान के ऊपर से खींच दी। 

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना