रामपुर / सपा सांसद आजम खान के जौहर ट्रस्ट से जुड़े दो भवनों की लीज डीड रद्द होगी, डीएम ने की संस्तुति



सपा सांसद आजम खान। सपा सांसद आजम खान।
X
सपा सांसद आजम खान।सपा सांसद आजम खान।

  • आजम खान पर जौहर ट्रस्ट के नाम पर जमीनें हड़पने का आरोप
  • अब तक दर्ज हो चुके हैं 26 केस, ईडी भी शिकंजा कसने की तैयारी में

Dainik Bhaskar

Jul 24, 2019, 12:54 PM IST

रामपुर. सपा सांसद आजम खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। अब जौहर ट्रस्ट मदरसा आलिया और सपा दफ्तर दारूल अवाम की लीज डीड खारिज होगी।जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने इस बाबत अपनी संस्तुति दी है। वहीं, जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जबरन और नियमों की धज्जियां उड़ाकर जमीन हथियाने के मामले में उनके खिलाफ अब मनी लांड्रिंग का शिकंजा कसने की तैयारी शुरू हो गई है। इसके लिए ईडी ने आजम खान से संबंधित मुकदमों की एफआइआर जुटाना शुरू कर दिया है।

 

आजम पर दर्ज हो चुके हैं अब तक 26 केस

रामपुर से सपा सांसद आजम खान पर जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जमीन हड़पने के मामले में 26 केस दर्ज हैं। अब पूर्व की सरकारों में आजम खान को आवंटित किए गए दो बड़े भवनों की लीज डीड कैंसिल करने का निर्णय लिया है। लीज कैंसिल किए जाने के लिए रामपुर जिला अधिकारी द्वारा संस्तुति की गई थी। यह दो बड़े भवन मदरसा आलिया और मुर्तुजा स्कूल के भवन थे, जिन्हें जौहर ट्रस्ट को लीज पर दे दिया गया था और इनमें रामपुर पब्लिक स्कूल और आजम खान की राजनीतिक गतिविधियां चालित की जा रही थी। यह भवन कभी एक सरकारी स्कूल मुर्तुजा स्कूल का भवन था। इसमें जिला विद्यालय निरीक्षक और बीएसए के कार्यालय स्थापित थे, लेकिन इस भवन को जौहर ट्रस्ट के नाम लीज पर दे दिया गया था। 

 

जांच में लीज का हुआ खुलासा

शिकायतों के आधर पर जांच में पता चला कि सरकार से लीज पर प्राप्त किए गए इस भवन में समाजवादी पार्टी का कार्यालय संचालित किया जा रहा है, जो कि लीज के नियमों के विरुद्ध मानते हुए जिलाधिकारी ने इसकी लीज रद्द किए जाने की संस्तुति कर दी थी। इसके अलावा एक दूसरा बड़ा झटका आजम खान को उस समय लगा जब उनके जौहर ट्रस्ट को अलॉट किए गए भवन जिसमें रामपुर पब्लिक स्कूल का किड्स जोन स्कूल चलाया जाता था।

 

भवन में संचालित था मदरसा

इस भवन में कभी मदरसा आलिया हुआ करता था, जो लगभग डेढ़ सौ वर्ष पूर्व अरबी फारसी की शिक्षा के लिए दुनिया भर में मशहूर था। इसमें अरबी यूनिवर्सिटी भी कायम किए जाने की संस्तुति की गई थी, लेकिन बाद में इसमें तालाबंदी कर दी गई और फिर सीएनडीएस विभाग ने इसका जीर्णोद्धार किया और इसको आजम खान के ट्रस्ट को लीज पर दे दिया गया। मदरसा आलिया भवन में सरकारी यूनानी अस्पताल भी चलाया जाता था। इस भवन को अभी कुछ दिन पहले ही खाली करा लिया गया था।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना