शाहजहांपुर / तीन नाबालिगों को पुलिस ने हिरासत में लिया, भूख प्यास से तड़पते हुए दस घंटे थाने में बैठे रहे बच्चे



प्रतीकात्मक। प्रतीकात्मक।
X
प्रतीकात्मक।प्रतीकात्मक।

  • बच्चों के दो गुटों में खेलने के दौरान हुआ था विवाद
  • जानकारी होने पर परिजनों ने शाम को मुक्त कराया, एसपी ने जांच का दिया भरोसा

Dainik Bhaskar

Jul 17, 2019, 02:32 PM IST

शाहजहांपुर. खेल के दौरान मारपीट होने के मामले में बंडा थाने की पुलिस मंगलवार को तीन नाबालिग बच्चों को हिरासत में लेकर थाने ले आई। करीब दस घंटे तीनों बच्चे थाना परिसर में एक चबूतरे पर भूखे प्यासे बैठे रहे। देर शाम परिवार वालों ने कागजी कार्रवाई पूरी करने के बाद बच्चों को मुक्त कराया है। मामला तूल पकड़ने के बाद एसपी एस चिनप्पा ने जांच के बाद आरोपी पुलिस वालों पर कार्रवाई की बात कही है।  

 

थाना बंडा के ग्राम ताजपुर में कुछ बच्चे मंगलवार सुबह खेत में बकरी चराने गए थे। इन बच्चों की उम्र 7 से 8 साल की है। उस खेत में पास के गांव के कुछ बच्चे भी खेल रहे थे। किसी बात को लेकर बच्चों में विवाद हो गया और बकरी चराने गए बच्चों ने एक बच्चे को धक्का दिया। जिससे उसके सिर मे चोट आ गई। उसके बाद चोटिल बच्चे के पिता ने खेत पर पहुंचकर हमलावर बच्चों को पीटा। उसके बाद पुलिस को सूचना कर दी।

 

इस घटना के बाद पुलिस तत्काल हरकत में आ गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सुबह करीब दस बजे बकरी चरा रहे चार बच्चों में से तीन बच्चों को पुलिस थाने लेकर आ गई। पूरा दिन बच्चे थाने में बने चबूतरे पर बैठे रहे। दोपहर में इन मासूमों को भूख लगी। लेकिन पुलिस का दिल नहीं पसीजा। जब इन मासूमों को परिजनों को पता चला तो उन्होंने थाने पहुचकर मासूमों को छोड़ने की बात की। शाम करीब छह बजे बच्चों को मुक्त किया गया। एसपी एस चिनप्पा का कहना है कि घटना में आरोपों की जांच कराई जाएगी। जांच में जो भी दोषी होगा कार्रवाई की जाएगी। 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना