रामपुर / एसआईटी ने डाला डेरा; आजम ने कहा- बच्चों का मुस्तकबिल खराब न करें, सांसद पत्नी ने मांगी सुरक्षा

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 11:23 AM IST


सपा नेता आजम खान। सपा नेता आजम खान।
X
सपा नेता आजम खान।सपा नेता आजम खान।
  • comment

  • जौहर यूनिवर्सिटी में सरकारी धन के दुरुपयोग का है आरोप
  • भाजपा नेता आकाश सक्सेना की शिकायत पर एसआईटी जांच जारी
  • पत्नी ने कहा- पति आजम की जान को खतरा

रामपुर. पूर्व मंत्री आजम खान की जौहर ट्रस्ट, जौहर यूनिवर्सिटी में सरकारी धन के इस्तेमाल और इससे जुड़ी गड़बड़ियों के आरोपों की जांच करने के लिए गठित की गई एसआईटी की एक टीम ने रामपुर में डेरा डाल दिया है। सपा सरकार के कार्यकाल में जौहर यूनिवर्सिटी की शुरूआत की गई थी और प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद आजम खां और उनकी यूनिवर्सिटी सियासी विरोधियों के निशाने पर आ गई। इस पर आजम खान ने कहा कि, बच्चों के मुस्तकबिल को खराब न करें। बच्चों में खौफ का माहौल न बनाएं। आजकल इन संस्थाओं को जो इस्तेमाल हो रहा है, वह काफी दुखद है। आजम ने तंज कसते हुए कहा कि, उनका घर सरकारी जमीन पर बना है। जिला कलेक्टर उसे गिराकर जमीन पर कब्जा कर लें।

 

दरअसल, भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने इन प्रकरणों की जांच कराकर कार्रवाई करने की मांग की थी। इन शिकायतों को शासन ने गंभीरता से लेते हुए एसआईटी से जांच कराने की सिफारिश की गई थी। 


राज्यसभा सदस्य व आजम खान की पत्नी डॉक्टर तजीन फातमा ने मुख्य चुनाव आयुक्त को खत लिखकर जिला प्रशासन से अपने पति मोहम्मद आजम खां को खतरे का अंदेशा जताया है। खतरे का अंदेशा देखते हुए डॉक्टर फातमा ने आजम खां को जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान करने की मांग की है। फातमा ने खत में कहा है कि जिला प्रशासन लोकसभा चुनाव में भाजपा को लाभ पहुंचाने की कोशिश में लगा हुआ है। इस कोशिश में सपा की सरकार में हुए विकास कार्यो को धराशाई किया जा रहा है। इसका विरोध करने पर सपा कार्यकर्ताओं पर मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है। 

 

उन्होंने कहा कि आचार संहिता लगने के बाद जिला प्रशासन की कार्रवाई से रामपुर में खौफ और आतंक माहौल व्याप्त है। डॉक्टर फातमा ने कहा कि उनके पति मोहम्मद आजम खां ने सपा की सरकार में कैबिनेट मंत्री रहते हुए जो विकास के कार्य कराए हैं उनको ध्वस्त किया जा रहा है। उन्होंने कहा है कि रामपुर में जो माहौल है उसमें उनको अपने पति और जनपद की सुरक्षा को लेकर खतरा महसूस होने लगा है। उन्होंने जनपद में तैनात पांच अधिकारियों का तबादला किए जाने की मांग की है। 

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन