--Advertisement--

पहली बार यूपी पुलिस के 68 कॉप्स कांस्टेबल के साथ डीजीपी ने खाया खाना, लखनऊ में खुला महिला सम्मान कक्ष

75 जिलों से आए यह वह कांस्टेबल हैं जिनको बीते छह महीने में अपने-अपने जिले में सराहनीय कार्य के लिए सम्मानित किया गया

Danik Bhaskar | Jul 22, 2018, 04:58 PM IST

लखनऊ. यूपी पुलिस के 68 कॉप्स कांस्टेबल ने पहली बार रविवार को बीकेटी स्थित एक ढाबा पर डीजीपी ओपी सिंह के साथ खाना खाया। 75 जिलों से आए यह वह कांस्टेबल हैं जिनको बीते छह महीने में अपने-अपने जिले में सराहनीय कार्य के लिए सम्मानित किया गया। डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि डिनर पार्टी से सिपाही और अधिकारी के बीच की दूरी मिटेगी। उन्होंने कहां कि इस दौरान सिपाहियों ने अपनी समस्या भी बताई। जिसका समाधान करने के निर्देश दिए गए हैं। ऐसा आयोजन हर छह महीने में किया जाएगा। इस दौरान एडीजी आदित्य मिश्रा, एडीजी अंजू गुप्ता और एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी समेत कई पुलिस अफसर मौजूद रहे।


लखनऊ से कांस्टेबल राहुल गिरी हुए शामिल : इस भोज में लखनऊ से कांस्टेबल राहुल गिरी को शामिल किया गया। जो मौजूदा समय में गुडंबा थाने पर तैनात है। वहीं रवि वर्मा सर्विलांस सेल मुजफ्फरनगर, शैलेश कुमार झांसी,पूजा हाथरस, अतुल कुमार एटा मीडिया सेल और रितुपाल सिंह कौशाम्बी। डीजीपी ने कहा कि सराहनीय काम करने वाले कर्मचारियाें को हर महीने में थाने में सम्मानित किया जाएगा।

महिला सम्मान कक्ष का डीजीपी ने किया उद्घाटन : राजधानी लखनऊ में रविवार को डीजीपी ओपी सिंह ने गोमतीनगर थाने से 14 थानों में महिला सम्मान कक्ष का उद्घाटन किया। सब इंस्पेक्टर पूजा गुप्ता को इसका प्रभारी बनाया गया। इसमें एक महिला दारोगा और दो महिला सिपाही तैनात रहेंगे। आइजी सुजित पांडेय ने बताया कि छह माह से 50 पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है कि वह आगंतुकों से कैसे बात करें। महिला सुरक्षा रजिस्टर भी रखा गया है। आने वाले समय में 1090 से महिला सम्मान कक्ष को जोडऩे का काम किया जाएगा। इस दौरान डीजीपी की पत्नी नीलम सिंह भी मौजूद रहीं।