Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» UP Police Launches NRI Twitter Handle

@UPPolNRI से विदेशों में बसे भारतीयों की मदद कर रही UP पुलिस, ट्वीट से मिली शिकायत पर खोजी साइकिल; किराया भी दिलाया

स्पेशल ट्विटर हैंडल सेवा का काम खुद डीजीपी ओपी सिंह देख रहे हैं।

Aditya Tiwari | Last Modified - Jun 10, 2018, 06:13 PM IST

  • @UPPolNRI से विदेशों में बसे भारतीयों की मदद कर रही UP पुलिस, ट्वीट से मिली शिकायत पर खोजी साइकिल; किराया भी दिलाया
    +1और स्लाइड देखें
    यूपी पुलिस द्वारा शुरू की गई ट्विटर सेवा।

    लखनऊ. यूपी पुलिस ने भारत के बाहर रह रहे किसी भी भारतीय प्रवासी की मदद के लिए अब एनआरआई ट्विटर हेंडल की सेवा शुरू की हैं। फिलहाल 22 मई को लांच हुई @UPPolNRI की ट्विटर सेवा केवल यूपी के नागरिकों के लिए ही हैं। बता दें, 72 घण्टे में एनआरआई सेवा के जरिये दो ऐसे मामलों का निस्तारण किया जिसकी शिकायत स्थानीय पुलिस ने नहीं सुनी थी। सिंगापुर में रह रही कावेरी चतुर्वेदी ने शिकायत मिली कि, किसी ने नोएडा में उनके फ्लैट में कब्ज़ा कर रखा जिसको पुलिस ने कब्ज़ा मुक्त कराया। यहीं नहीं कनाडा में रहने वाले निखिल की शिकायत पर उसके पिता की साइकिल जालौन की उसी ही पुलिस ने खोज कर दी जिसने उसके पिता को थाने से टरका दिया था। डीजीपी पीआरओ राहुल श्रीवास्तव/सोशल मीडिया प्रभारी ने बताया कि, पहली बार उत्तर प्रदेश में इस प्रकार की सेवा की शुरुआत की गई, जिससे विदेशों में रह रहे इंडियन यूपी पुलिस से सीधे ट्विटर हैंडल के जरिए मदद मांग सकते हैं।


    पहला मामला : सिंगापुर से मकान कब्जा होने की शिकायत
    -नोएडा पुलिस से फ्लैट कब्जा होने की शिकायत बीते एक महीने से सिंगापुर में रह रही कावेरी चतुर्वेदी कर रही थी।
    -नोएडा पुलिस की कार्यशैली से परेशान कावेरी ने 01 जून, 2018 को सिंगापुर से अपने ट्विटर हैण्डल से @UPPolNRI पर ट्वीट किया कि "किसी ने उसके मकान पर कब्जा कर रखा है।"
    -बता दे, सिंगापुर में रह रही है एनआरआई महिला नोएडा में रहती थी, उसके मकान में रहने वाले किरायेदारों ने काफी समय से किराया नहीं दिया, मकान भी खाली नहीं कर रहे थे।
    -जिसके बाद एनआरआई महिला शिकायत उन्होंने यूपी पुलिस के एनआरआई ट्विटर हैंडल पर की, इसके बाद यूपी पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए न सिर्फ उनका किराया दिलवाया बल्कि मकान से कब्जा भी हटवाया।


    दूसरा मामला : कनाडा के निखिल के पिता की खोजी गई साइकिल
    -कनाडा में रह रहे निखिल के पिता जे पी गुप्ता ने 15 मई को जालौन जिले की उरई कोतवाली की पुलिस से साइकिल चोरी की रिपोर्ट कराने पहुंचे तो उनकी रिपोर्ट न लिखकर तस्करा लिखकर उन्हें टरका दिया था।
    -इसकी शिकायत 30 मई 2018 को निखिल ने अपने ट्विटर हैण्डल @NikhilCanada से यूपी पुलिस मुख्यालय के NRI ट्विटर हैण्डल @UPPolNRIपर ट्वीट किया गया।
    -इस ट्वीट का संज्ञान लेते हुए जनपद जालौन के ट्विटर हैण्डल @jalaunpolice पर आवश्यक कार्यवाही के लिए भेजा गया।
    - डीजीपी मुख्यालय के निर्देशन में जालौन पुलिस द्वारा निखिल की समस्या का समाधान कराते हुए उनके पिता की साइकिल दिलवायी गयी।
    -यूपी पुलिस के कार्य से खुश एनआरआई ने पुलिस की सराहना व प्रशंसा करते हुए अपने ट्वीट के माध्यम से धन्यवाद दिया हैं।

    छोटी शिकायत पर बड़ा रिस्पांस मिलने से हुई ख़ुशी
    -नोएडा में फ़्लैट से कब्जा हटाए जाने के बाद सिंगापुर में रहने वाली कावेरी चतुर्वेदी ने यूपी पुलिस को स्पेशल थैंक्स बोला।
    -वही, यूपी पुलिस द्वारा एक छोटी सी बात पर इतना बड़ा रिस्पांस पाने के बाद कनाडा में रहने वाले एनआरआई निखिल ने यूपी पुलिस की जमकर तारीफ की और ला एंड आर्डर की तारीफ की और धन्यवाद कहा है।

    ट्विटर के मामलों को मैं खुद कर रहा हूं मॉनिटर : डीजीपी
    - DGP ओपी सिंह ने बताया कि जो भी ट्विटर के जरिए पुलिस की मदद चाहते हैं तो हमने तुरंत मदद की है। इसके लिए स्पेशल टीम बनाई गई है। डीजीपी का कहना हैं मौजूदा समय पर यूपी पुलिस के ट्विटर पर 2500 से ज्यादा शिकायत मिल रही हैं। इसलिए एनआरआई की शिकायतों की हेल्प के लिए @UPPolNRI का स्पेशल ट्विटर हैंडल बनाया गया है। जिससे शिकायतों को भी जल्द निस्तारण किया जाए और जल्द जल्द मदद की जा सके। डीजीपी के मुताबिक यूपी पुलिस के ट्विटर पर भी तुरंत एक्शन लिया जा रहा है।
    - उसी तरीके से हम एनआरआई ट्विटर सेवा को रिस्पॉन्स कर रहे हैं दोनों ही सेवाओं में अलग-अलग टीम काम कर रही हैं और मैं खुद मॉनिटर कर रहा हूं।



    22 मई को हुआ था @UPPolNRI का ट्विटर हैंडल की लांच
    -डीजीपी पीआरओ राहुल श्रीवास्तव ने बताया कि विदेशों में रह रहे भारतीय मूल के लोगों द्वारा ट्वीट किया जाता रहा है। उनके ट्वीट पर संज्ञान लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस उनकी समस्याओं का निस्तारण करती रही है, लेकिन उनकी ट्वीट्स की संख्या में हो रही बढ़ोतरी के मद्देनजर उनके लिए अलग से ट्विटर हैंडल लांच करने की आवश्यकता महसूस की गयी। यह ट्विटर हैंडल 24 घण्टे काम करेगा। इस ट्विटर को सुप्रिया हैंडल करेंगी।
    - @UPPolNRI हेंडल में 18 दिनों में 2 हजार फोलोवेर्स हो गए और अभी तक 150 ट्विट हो चुके हैं।
    -पीआरओ ने बताया पहली बार यूपी पुलिस का ट्विटर सेवा मार्च 2016 में लांच हुए थी जिसके बाद सितम्बर 2016 से ट्विटर के एक विशेष साफ्टवेयर ट्विटर सेवा का संचालन किया जा रहा है।
    -यह साफ्टवेयर उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा ही प्रत्येक जिलों एवं इकाइयों के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

  • @UPPolNRI से विदेशों में बसे भारतीयों की मदद कर रही UP पुलिस, ट्वीट से मिली शिकायत पर खोजी साइकिल; किराया भी दिलाया
    +1और स्लाइड देखें
    डीजीपी ओपी सिंह खुद कर रहे हैं ट्विटर की मॉनिटरिंग।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Lucknow News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: UP Police Launches NRI Twitter Handle
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×